scorecardresearch
 

Swami Prasad Maurya ने बीजेपी-संघ को कहा नाग, बोले - स्वामी रूपी नेवला खत्म करके ही दम लेगा

स्वामी प्रसाद मौर्य (swami prasad maurya) ने बीजेपी और संघ पर तंज कसा है. उन्होंने संघ को नाग और बीजेपी को सांप कहा है. इतना ही नहीं स्वामी प्रसाद ने खुद को नेवला बताया है.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी और संघ पर तंज कसा स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी और संघ पर तंज कसा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्वामी प्रसाद मौर्य ने 11 जनवरी को बीजेपी छोड़ी थी
  • मौर्य ने अभी कोई पार्टी जाइन नहीं की है, सपा में जा सकते हैं

स्वामी प्रसाद मौर्य (swami prasad maurya) ने भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा देने के बाद अब यूपी सरकार के साथ-साथ राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ को निशाने पर लिया है. अपने ताजा ट्वीट में स्वामी में संघ को नाग और बीजेपी को सांप कहा है. इतना ही नहीं स्वामी प्रसाद ने खुद को नेवला बताया है.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया, 'नाग रूपी आरएसएस और सांप रूपी बीजेपी को स्वामी रूपी नेवला यूपी से खत्म करके ही दम लेगा.'

स्वामी प्रसाद मौर्य ने 11 जनवरी को यूपी के कैबिनेट मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था, फिर उन्होंने बीजेपी भी छोड़ दी थी. स्वामी का ताजा ट्वीट ऐसे वक्त पर आया है तब बीजेपी में इस्तीफों की झड़ी लगी हुई है. अबतक बीजेपी के 8 मौजूदा विधायक बीजेपी को छोड़ चुके हैं. स्वामी प्रसाद मौर्य अभी किस पार्टी में जाएंगे यह साफ नहीं है. उन्होंने कहा था कि इसपर सस्पेंस अभी बना रहना चाहिए. 14 जनवरी यानी कल वह इसका ऐलान करेंगे. स्वामी प्रसाद मौर्य समाजवादी पार्टी में जा सकते हैं.

बता दें कि मौर्य के खिलाफ बुधवार को एक सात साल पुराने मामले में अरेस्ट वारंट भी जारी हुआ है. अरेस्ट वारंट (Swami Prasad Arrest Aarrant) जारी होने के सवाल पर स्वामी प्रसाद ने कहा था कि वारंट आने दीजिए. मैं न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान करता हूं. जो भी प्रक्रिया होगी, उसका सामना करूंगा. मैं भी हाईकोर्ट का एडवोकेट रहा हूं.

इससे पहले आजतक से खास बातचीत करते हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा था कि 14 जनवरी को वह अंतिम धमाका करेंगे जो बीजेपी सरकार के ताबूत में आखिरी कील जैसा होगा.

बीजेपी ने नहीं साधा मौर्य से संपर्क

बीजेपी के किसी बड़े नेता ने या केंद्रीय नेतृत्व ने स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ संपर्क नहीं किया है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक पार्टी को स्वामी प्रसाद मौर्य के बीजेपी छोड़ने की भनक पहले से थी इसलिए उनके इस्तीफे के बाद भी कोई संपर्क नहीं साधा गया है. पहले कहा जा रहा था कि उनको मनाने की कोशिशें जारी हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×