scorecardresearch
 

'मां कृष्णा पटेल और बहन पल्लवी पटेल से दिलवाएं इंसाफ' सोनेलाल पटेल की छोटी बेटी ने लगाई अखिलेश यादव से गुहार

UP elections 2022: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सपा नेता अखिलेश यादव को लिखे अमन पटेल के पत्र से सूबे की सियासत गरमा गई है.

X
अमन पटेल ने इंसाफ दिलवाने की मांग. (फाइल फोटो) अमन पटेल ने इंसाफ दिलवाने की मांग. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोने लाल की सबसे छोटी बेटी हैं अमन पटेल
  • तीन बहनों के नाम हैं- अनुप्रिया, पल्लवी और अमन पटेल

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की विरासत को लेकर परिवार में कलह थमने का नाम नहीं ले रही है. सोनेलाल पटेल की दो बेटियों अनुप्रिया पटेल और पल्लवी पटेल के बीच पहले से ही सियासी वर्चस्व के लिए लड़ाई जारी है. अब तीसरी बेटी अमन पटेल ने भी अपनी मां कृष्णा पटेल और बड़ी बहन पल्लवी पटेल से इंसाफ के लिए समाजवादी के मुखिया अखिलेश यादव से गुहार लगाई है.  

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की सबसे छोटी बहन अमन पटेल ने अखिलेश यादव को एक भावुक पत्र लिखकर कहा है, 'मां कृष्णा पटेल के साथ आपका राजनीतिक गठबंधन है, इसलिए आप मुझे इंसाफ दिलवाएं.' सोनेलाल पटेल ट्रस्ट से बेदखल किए जाने के बाद से अमन पटेल बड़ी बहन पल्लवी पटेल के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रही हैं.

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सपा नेता अखिलेश यादव को लिखे अमन पटेल के पत्र से सूबे की सियासत गरमा गई है.  पिछले साल ही अमन पटेल ने यूपी के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर अपनी सबसे बड़ी बहन और अपना दल की कार्यकारी अध्यक्ष पल्लवी पटेल पर पिता की संपत्ति हड़पने का आरोप लगाया था.   

अमन पटेल ने डीजीपी को लिखे पत्र में कहा था कि 2009 में पिता की मृत्यु के बाद मां कृष्णा पटेल और सभी बहनों की सहमति पर बड़ी बहन पल्लवी ने कानपुर स्थित पिताजी के समस्त कारोबार की बागडोर संभाली. उन्होंने आरोप लगाया है कि पिता की संपत्ति बिना किसी को जानकारी दिए हुए 2015 में ही बड़ी बहन ने अपने नाम वसीयत करा ली. उन्होंने दावा किया था कि संपत्ति वसीयत के कुछ मूल दस्तावेज वसीयत पंजीकरण कार्यालय से कुछ दिन पहले ही मिलने के बाद उन्हें यह जानकारी हुई.  

अमन पटेल ने बड़ी बहन पल्लवी पटेल पर पति पंकज निरंजन को पिता के व्यावसायिक ट्रस्ट में बिना किसी जानकारी के सदस्य बनाने का भी आरोप लगाया था.  इतना ही नहीं, पिता सोनलाल पटेल की राजनीति को भी खत्म करने के गभीर आरोप लगाए थे.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें