scorecardresearch
 

'साइकिल के पैडल चलाने वाले भी आए...', मौर्य के सपा में शामिल होने पर बोले Akhilesh yadav

स्वामी प्रसाद मौर्य के सपा में शामिल होने के बाद अखिलेश यादव ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित किया. अखिलेश यादव बोले कि साइकल की रफ्तार को अब कोई नहीं रोक पाएगा.

अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य को सपा में शामिल कराया अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य को सपा में शामिल कराया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अखिलेश यादव बोले कि बाबा को क्रिकेट खेलना नहीं आता
  • अखिलेश ने कहा कि सपा गठबंधन 400 सीटें भी जीत सकता है

स्वामी प्रसाद मौर्य और कई विधायकों और नेताओं के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद अखिलेश यादव ने बीजेपी, सीएम योगी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने यह भी कहा कि अब सब ठीक होगा क्योंकि, साइकिल का हैंडल भी ठीक है और पेडल भी, और अब तो चलाने वाले भी इतने आ गए हैं. यहां अखिलेश सपा में शामिल नेताओं का जिक्र कर रहे थे.

सपा प्रमुख बोले कि अगर सबका साथ रहा तो सपा गठबंधन 400 सीटें भी जीत सकता है. उन्होंने कहा कि मौर्य सपा में आए तो उनके खिलाफ पता नहीं कौन से जमाने के केस का वारंट सरकार ने जारी कर दिया था.

बाबा क्रिकेट खेलना नहीं जानते - अखिलेश

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी में लगातार विकेट गिर रहे हैं. बाबा क्रिकेट खेलना नहीं जानते, अगर जानते भी होते तो भी अब उनसे कैच छूट गया. स्वामी ने कहा जहां वह चल देते हैं सरकार उसी की बन जाती है. लोग 80 और 20 कर रहे थे. रटने के साथ साथ उन्हें गणित का भी अध्यापक रखना होगा, यह 80 सपा के साथ खड़े ही हो गए थे.

मुझे लगता है कि सरकार के लोगों को पहले ही पता लग गया था कि स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी के साथ बड़ी संख्या में लोग आ रहे होंगे इसलिए हमारे मुख्यमंत्री पहले ही गोरखपुर चले गए। हालांकि उनकी 11 मार्च की किसी ने टिकट बुक कर रखी है

लखनऊ में बोले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव

सपा प्रमुख अखिलेश ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार ने यूपी को बर्बाद कर दिया. उनके पास कोई ठोस उपलब्धि नहीं है. पेट्रोल-डीजल तक इतना महंगा हो गया. तेल कंपनियां 600 फीसदी मुनाफा कमा रही हैं. लोगों को लूटा जा रहा है.

बिना इजाजत हुआ सपा का कार्यक्रम

लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का कहना है कि समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम बिना अनुमति हो रहा है. सूचना मिलने पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को सपा दफ़्तर भेजा गया है. रिपोर्ट के आधार पर ज़रूरी कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य समेत बाकी नेताओं ने जब सपा का दामन थामा तब वहां भारी संख्या में भीड़ थी, जबकि 15 जनवरी तक रैलियों पर रोक है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×