scorecardresearch
 

यूपी विधानसभा चुनावः अतीक अहमद को उम्मीदवार बनाएगी AIMIM, ओवैसी का ऐलान- 100 सीटों पर लड़ेंगे

असदुद्दीन ओवैसी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि अतीक अहमद चुनाव लड़ने के लिए कानूनी तौर पर स्वतंत्र हैं. अतीक अहमद के खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज हैं लेकिन वे चुनाव लड़ सकते हैं और हमारी पार्टी उनको टिकट देगी.

असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटोः पीटीआई) असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मुख्तार अंसारी को भी टिकट देने के लिए तैयार- असदुद्दीन ओवैसी
  • कहा- यूपी में बीजेपी के 37 फीसदी विधायकों पर आपराधिक मामले

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. यूपी विधानसभा चुनाव से पहले हर सियासी दल अपनी सियासी बिसात बिछाने में जुटा है. चुनाव से पहले यूपी में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) भी एक्टिव हो गई है. असदुद्दीन ओवैसी ने यूपी चुनाव में उम्मीदवार उतारने का ऐलान करने के साथ ही यह भी साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी जैसे आपराधिक छवि वाले नेताओं को टिकट देने से भी गुरेज नहीं करेगी.

एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मंगलवार को पटना पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यूपी के विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी गैंगस्टर अतीक अहमद को टिकट देगी. पिछले दिनों जेल में बंद गैंगस्टर से नेता बने अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने ओवैसी की पार्टी का दामन थाम लिया था. इसके बाद से ही एक तरह से यह स्पष्ट हो गया था कि ओवैसी की पार्टी यूपी चुनाव में अतीक अहमद को अपना उम्मीदवार बनाएगी.

असदुद्दीन ओवैसी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि अतीक अहमद चुनाव लड़ने के लिए कानूनी तौर पर स्वतंत्र हैं. अतीक अहमद के खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज हैं लेकिन वे चुनाव लड़ सकते हैं और हमारी पार्टी उनको टिकट देगी. ओवैसी ने इस बात के भी संकेत दे दिए कि अतीक अहमद के साथ-साथ उनकी पार्टी जेल में बंद मुख्तार अंसारी जैसे माफिया डॉन को भी अपनी पार्टी से टिकट देने के लिए तैयार है.

ओवैसी ने कहा कि मुख्तार अंसारी को हमारी पार्टी टिकट देने के लिए तैयार है. हालांकि मुख्तार अंसारी से अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है. ओवैसी से जब इस संबंध में सवाल पूछा गया कि आखिर क्यों इस बार उनकी पार्टी यूपी में बाहुबलियों और अपराधियों का नया ठिकाना बन गई है तो इस पर उन्होंने पलटवार करते हुए सवाल खड़े किए आखिर क्यों बीजेपी ने प्रज्ञा ठाकुर को टिकट दिया?

ओवैसी ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर का दूध की धुली हुई है? यूपी में बीजेपी के 37 फीसदी विधायकों के खिलाफ आपराधिक मामले चल रहे हैं. उन्होंने मीडिया को निशाने पर लेते हुए कहा कि मीडिया को हमारा दाग नजर आता है लेकिन बीजेपी का दाग नजर नहीं आता. असदुद्दीन ओवैसी ने साथ ही यह ऐलान भी किया कि यूपी में उनकी पार्टी सौ सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी. उन्होंने ये भी कहा कि हम अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी या मायावती की बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन के लिए चर्चा को तैयार हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें