scorecardresearch
 

बिहार: गोपालगंज की रैली में PM मोदी ने गिनाए महागठबंधन के 33 घोटाले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के गोपालगंज में शुक्रवार को चुनावी रैली को संबोधित किया. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने महागठबंधन खासकर लालू और नीतीश पर जमकर हमला बोला. पीएम ने चारा घोटाले से लेकर केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार के दौरान हुए 33 घोटालों की लिस्ट सुनाई और कहा कि महागठबंधन देश को यही दे सकता है.

गोपालगंज की रैली में PM मोदी गोपालगंज की रैली में PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के गोपालगंज में शुक्रवार को चुनावी रैली को संबोधित किया. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने महागठबंधन खासकर लालू और नीतीश पर जमकर हमला बोला. पीएम ने चारा घोटाले से लेकर केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार के दौरान हुए 33 घोटालों की लिस्ट सुनाई और कहा कि महागठबंधन देश को यही दे सकता है.

लालू को केवल बेटों की फिक्र

प्रधानमंत्री ने कहा कि बड़े भाई-छोटे भाई को बिहार की जनता की परवाह नहीं है. आरडेजी प्रमुख लालू यादव के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि लालू ने गोपालगंज को मिनी चंबल बना दिया. उन्हें राज्य के लोगों की नहीं केवल अपने बेटों की चिंता है.

नीतीश ने युवाओं को बाहरी बनाया
नीतीश के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि नीतीश कुमार गलत लोगों के साथ मिलकर बिहार का अपमान कर रहे हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कु यहां विकास की उपेक्षा कर युवाओं को बाहरी बना दिया गया. प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के लोग साथ आएं तो यहां से भाई-भतीजवाद और भ्रष्टाचार खत्म करके दिखाऊंगा.

लोगों का किया अपमान
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार के लोगों का अपमान किया है, 'लोगों के बीच मेरे लिए बढ़ते प्रेम को देखकर विपक्ष का हमला तेज होता जा रहा है. उनका आरोप है कि जो लोग मेरी रैलियों में आते हैं पैसा देकर आते हैं. नीतीश बाबू बिहार के लोगों के स्वाभिमान को चोट मत पहुंचाओ.'



जनता हिसाब मांग रही है
प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार की जनता महागठबंधन से 25 सालों के काम-काज का हिसाब मांग रही है और आप हिसाब देने को तैयार नहीं. पूरे बिहार में सबसे ज्यादा पलायन सिवान और गोपालगंज जिलों से हुआ है. प्रधानंमत्री ने कहा कि गोपालगंज लालू का गृह जिला है लेकिन उसे मिनी चंबल बना दिया गया. जिस कारण लोग यहां से पलायन को मजबूर हुए.

हर क्षेत्र में हुए घोटाले
प्रधानमंत्री ने कहा कि इनके शासन में रेलवे, मिड डे मिल, चारा से लेकर किस क्षेत्र में घोटाले नहीं हुए? नीतीश जी पुराने दिनों को वापस लौटाने की मांग करते हैं तो क्या वे फिर से बिहार को बिना बिजली, बिना काम के ..अपराध के दिनों वाला बिहार देना चाहते हैं? जब अपहरण होते थे...जब दलितों के खिलाफ अत्याचार होता था.

आरक्षण को लेकर बड़ी साजिश
आरक्षण को लेकर भी प्रधानमंत्री ने मोर्चा खोला. प्रधानमंत्री ने कहा कि ये नेता दलितों, महादलितों, ओबीसी और ईबीसी के आरक्षण में कटौती कर धर्म के आधार पर देना चाह रहे हैं. भाजपा उनकी इन कोशिशों को सफल नहीं होने देगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें