scorecardresearch
 

पंचायत आज तक: तेजस्वी यादव ने कहा- नरेंद्र मोदी का फ्यूचर क्या है?

पंचायत आजतक में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया. जंगल राज से लेकर महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर तेजस्वी ने प्रधानमंत्री मोदी को घेरा. साथ ही बीजेपी की नीतियों पर भी सवाल उठाए.

X
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव

पंचायत आजतक में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया. जंगल राज से लेकर महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर तेजस्वी ने प्रधानमंत्री मोदी को घेरा. साथ ही बीजेपी की नीतियों पर भी सवाल उठाए.

हमने कैप्टन घोषित कर दिया है उनका कैप्टन कौन है ये बताएं
सामाजिक विकास, सबको साथ लेकर चलने के साथ ही युवा भागीदारी हमारी प्राथमिकता. इन्हें जागरूक करना पड़ेगा. प्रधानमंत्री बनने के बाद केंद्र से दो साल तक रोजगार नहीं मिलेगा ये घोषित कर दिया.

1 लाख 25 हजार करोड़ का पैकेज दिया.
लालू जी जब मुख्यमंत्री बने तो गांधी मैदान और रेलवे स्टेशन गिरवी था जिसे हमने छुड़वाया. जिनके पास बोली नहीं थी उनके मुंह में आवाज दी. उन्हें बल दिया.

जंगल राज भी कहा जाता है उनके दौर को?
पड़ोसी राज है झारखंड. वहां दो दिन पहले पुलिस स्टेशन के सामने गोली मार दी. मनमोहन सिंह को मौन कहने वाले आद खुद व्यापम घोटाले पर मौन हैं. हत्याएं हुईं. खरीद घोटाला हुआ. झारखंड की बिहार से तुलना करें. बीजेपी अध्यक्ष पर खुद हत्या के आरोप लगे.

राजनीति में नहीं आते तो क्या करते?
शायद क्रिकेट ट्रेनर बन जाते. लेकिन हम समाजसेवा करना चाहते हैं.

पॉलिटिक्स के लिए क्वालिफिकेशन नहीं है? परिवारवाद की वजह से राजनीति में आए हैं.
ये तो जनता तय करेगी. बीजेपी के लोग जो देश भर में राजनीति कर रहे हैं वो सर्टिफिकेट बना कर दें कि राजनीति से हट जाएंगे तो हम भी हट जाएंगे.

पप्पू जी बात करते हैं... नरेंद्र मोदी का फ्यूचर क्या है? कुछ लोग अति-महत्वकांक्षी होते हैं और समय के मुताबिक दूसरी पार्टियों में चले गए हैं. मैं कहता हूं कि ये अच्छा है. मेरी पार्टी इस बार युवाओं को सबसे अधिक सीटों पर खड़ा करेगी. आज का युवा जल्दी संजीदा हो जाता है. जो सही में जनता का कैंडिडेट होगा हम उसे टिकट देंगे. 40 साल तक के लोगों को हम युवा मानते हैं और हम ऐसे योग्य लोगों को ढूंढ रहे हैं.

आप लालू यादव के उत्तराधिकारी बनने वाले हैं, इस पर नाराजगी है.
अगर लालू जी को परिवार की चिंता होती तो हम भी चिराग पासवान की तरह संसदीय बोर्ड के सदस्य होते. राजनीति में उतरने से लेकर अब तक पार्टी में मुझे कोई पद नहीं मिला. राजनीति में लालू के उत्तराधिकारी का फैसला जनता करेगी.

चिराग पासवान आपसे आगे हैं?
चिराग पासवान से हमारी लड़ाई मीडिया ने लगाई है. हमारा वोट प्रतिशत उनसे ज्यादा है. चिराग तकलीफ में है. जो वह करना चाहते थे वह कर नहीं पाए.

हार्दिक पटेल के बारे में क्या सोचते हैं?
उनके आंदोलन में कुछ साफ तौर पर नहीं दिखाई देता. कभी वह सबको आरक्षण देने की मांग करते हैं तो कभी कुछ और. आरक्षण सिर्फ निचले तबके को मिले. जो पिछड़ा है उसका विकास होना चाहिए.

लालू जी पर घोटाले के आरोप लगे
लालू जी पर जो भी आरोप लगे उनके चलते हमें दुख हुआ. चारा घोटाला में लालू जी का कोई रोल नहीं. बिहार की छवि खराब करने में बीजेपी का हाथ है. मोदी सरकार उद्योगपतियों को साथ लेकर चल रही है और बिहार आने नहीं देती. मोदी सरकार की कोई योजना सफल नहीं रही अब तक.

आपकी राजनीति आपके पिता की राजनीति में क्या फर्क है?
पार्टी में बुजुर्ग नेता भी हैं और युवा भी. युवाओं के पास तकनीकी है, वो उससे परिचित हैं. हम युवाओं को साथ लेकर चल रहे हैं.

मोदी जी की नजर युवा यादवों पर है...क्या कामयाब होंगे?
हम लोग जातिवादी नहीं है. बीजेपी जातिवाद फैला रही है. वो जिन मुद्दों पर सवाल उठाती है, हम जवाब देते हैं तो जातिवादी करार दिए जाते हैं. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनेगी.

आप उपमुख्यमंत्री बनना चाहते हैं?
बिल्कुल ऐसा नहीं है. हम चाहते हैं कि महागठबंधन की सरकार बने और एनडीए हारे. बिहार के विकास के लिए हम मिलकर काम करेंगे. जो जिम्मेदारी दी जाएगी उसे निभाएंगे. क्या बनना है क्या नहीं बनना वो अलग बात है.

25 साल युवाओं ने लालू का झंडा बुलंद किया...लेकिन क्या उन्हें मौका मिलेगा?
जब तक युवा राजनीति की मुख्यधारा में नहीं आएगा, उसे कैसे जानेंगे हम. कोई लालू जी को हटाकर उनकी जगह लेना चाहेगा तो यह संभव नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें