scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में बीजेपी, सहयोगी पार्टियों को मिल सकती हैं 154 सीटें

15 अक्टूबर को महाराष्ट्र की 288 सीटों के लिए होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले किए गए एक सर्वेक्षण के मुताबिक राज्य में बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों को 154 सीटें मिल सकती हैं.

बीजेपी बीजेपी

15 अक्टूबर को महाराष्ट्र की 288 सीटों के लिए होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले किए गए एक सर्वेक्षण के मुताबिक राज्य में बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों को 154 सीटें मिल सकती हैं. हालांकि, सर्वेक्षण के नतीजे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद का सबसे लोकप्रिय उम्मीदवार बता रहे हैं.

कुछ दिनों पहले मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले पृथ्वीराज चव्हाण मुख्यमंत्री पद के लोकप्रिय उम्मीदवारों के मामले में दूसरे पायदान पर हैं लेकिन सर्वेक्षण के मुताबिक उनकी कांग्रेस पार्टी को महज 25 सीटें मिलने के आसार हैं.

सर्वेक्षण के मुताबिक, बीजेपी को 36.50 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं जबकि शिवसेना को 17.10 और कांग्रेस को महज 11.97 फीसदी वोट मिलने की संभावना है.

‘द वीक’ और ‘हंसा रिसर्च’ की ओर से किए गए इस सर्वेक्षण के मुताबिक विधानसभा चुनावों में शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को बड़ा नुकसान होता नजर आ रहा है. सर्वेक्षण के नतीजों के मुताबिक एनसीपी 17 सीटों पर सिमट सकती है और उसे महज 5.85 फीसदी वोट मिलने की संभावना है.

मुख्यमंत्री पद के लिए पवार पांचवें सबसे लोकप्रिय उम्मीदवार हैं और इस मामले में वह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) प्रमुख राज ठाकरे और बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस से भी पीछे हैं. सर्वेक्षण के मुताबिक, शिवसेना 47 सीटें जीतकर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है जबकि मनसे को 10 और 5.11 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं. निर्दलीय उम्मीदवारों को 20 सीटें और 4.71 फीसदी वोट जबकि अन्य पार्टियों को 15 सीटें और 6.79 फीसदी वोट मिलने की संभावना है.

महाराष्ट्र में 15 सालों तक गठबंधन सरकार चलाने के बाद कांग्रेस और एनसीपी ने अपना नाता तोड़ लिया था. बीजेपी और शिवसेना का भी लगभग 25 साल पुराना गठबंधन टूट गया था. इससे चुनावी मुकाबला अब पंचकोणीय हो गया है. एमएनएस पांचवां पक्ष है. इसने हाल में शिवसेना के प्रति नरमी दिखाई है.

बीजेपी छोटी-छोटी पार्टियों के गठबंधन ‘महायुति’ के साथ चुनाव लड़ रही है. उसने महादेव जनकर के राष्ट्रीय समाज पक्ष, राजू शेट्टी के स्वाभिमानी शेतकरी पक्ष, शिव संग्राम और आरपीआई के साथ गठजोड़ किया है.

इनपुटः भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें