scorecardresearch
 

Gujarat Assembly Election 2022: आदिवासी इलाके की पाविजेतपुर विधानसभा सीट का क्या है चुनावी समीकरण?

आज हम बात कर रहे हैं छोटा उदयपुर जिले की पाविजेतपुर विधानसभा सीट की. हम आपको बताएंगे कि यहां चुनावी समीकरण क्या हैं? इस बार चुनावी मैदान में आम आदमी पार्टी की एंट्री ने बीजेपी और कांग्रेस के लिए मुसीबत बढ़ा दी है. यहां कुल मतदाता 2 लाख 65 हजार 752 हैं.

X
गुजरात विधानसभा चुनाव (प्रतीकात्मक फोटो)
गुजरात विधानसभा चुनाव (प्रतीकात्मक फोटो)

इस चुनावी दौर में हम बात करते हैं, छोटा उदयपुर जिले की पाविजेतपुर विधानसभा सीट के बारे में. यह आदिवासी सीट है. यह सीट इसलिए भी अहम मानी जाती है, क्योकि इस सीट पर पिछले दो चुनाव में एक भी पार्टी ने दोबारा जीत हासिल नहीं की है.  

मतदाताओं के आंकड़े

पाविजेतपुर विधानसभा सीट पर कुल मतदाता 2 लाख 65 हजार 752 हैं. इसमें 1 लाख 36 हजार 720 पुरुष मतदाता और 1 लाख 29 हजार 32 महिलाएं मतदाता शामिल हैं. यह सीट अनुसूचित जनजाति के लिए रिजर्व है.

राजकीय स्थिति  

पाविजेतपुर विधानसभा सीट पर वर्तमान विधायक कांग्रेस के सुखराम राठवा है. पिछली बार इनको कुल 7 हजार 770 वोट मिले थे और बीजेपी के जयंती राठवा को 3 हजार 52 मतों से हराया था. वहीं, बीजेपी के जयंती राठवा को 74 हजार 649 वोट मिले थे. 2012 के चुनाव में बीजेपी ने इस सीट पर जीत हासिल की थी. 2017 के चुनाव में कांग्रेस और बीटीपी का गठबंधन था. इसका फायदा कांग्रेस को हुआ था, लेकिन इस बार गठबंधन नहीं है.

इसलिए यहां बीटीपी भी अपना उम्मीदवार खड़ा कर जीत के लिए काफी जोर लगा रही है. इसका मुनाफा भाजपा को हो सकता है. वहीं, इस चुनाव में आम आदमी पार्टी भी अपना उम्मीदवार उतारेगी, जिससे समीकरण बदलते नजर आ रहे हैं.

स्थानीय समस्या

पाविजेतपुर विधानसभा सीट के आदिवासी क्षेत्र होने की वजह से यहां रोजगार की समस्या है. लोगों को यहां से काम-काज तलाशने के लिए दूसरे शहर जाना पड़ता है. इसके अलावा सड़क भी खराब है और शिक्षा के लिए बड़े स्कूल-कॉलेज भी नहीं है. यहां के बच्चों को पढ़ाई के लिए बड़े शहर में जाना पड़ता है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें