scorecardresearch
 

विजय रूपाणी के शपथ ग्रहण से जुड़े हैं ये अपशगुन

विजय रूपाणी लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण लेंगे. नए मंत्रीमंडल में रूपाणी सहित करीब 20 मंत्री होंगे. इनमें 10 कैबिनेट और 10 राज्य मंत्री होंगे. लेकिन रूपाणी के शपथ ग्रहण के साथ ये अपशगुन जुड़े हैं, जो चर्चा का विषय बने हुए हैं.

विजय रूपाणी (फाइल फोटो) विजय रूपाणी (फाइल फोटो)

गुजरात की सियासत में बीजेपी एक के बाद एक लगातार छठी जीत हासिल करके सरकार बनाने जा रही है. विजय रूपाणी लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण लेंगे. नए मंत्रिमंडल में रूपाणी सहित करीब 20 मंत्री होंगे. इनमें 10 कैबिनेट और 10 राज्य मंत्री होंगे. लेकिन रूपाणी के शपथ ग्रहण के साथ ये अपशगुन भी जुड़े हैं, जो चर्चा का विषय बने हुए हैं.

पहला अपशगुन

गुजरात के नए सीएम विजय रूपाणी की ताजपोशी के शपथ ग्रहण समारोह से पहले कार्यक्रम वाली जगह पर दो मजदूरों की मौत हो गई. हादसा गांधीनगर सचिवालय के हेलिपेड ग्राउंड पर पंडाल निर्माण के दौरान हुआ. पंडाल की छत पर काम कर रहे तीन मजदूर नीचे गिर गए. घायल तीनों मजदूरों को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन इलाज के दौरान दो मजदूरों ने दम तोड़ दिया.

दूसरा अपशगुन

विजय रूपाणी दूसरी बार गुजरात की सत्ता के सिंहासन दूसरी बार काबिज होने जा रहे हैं. विजय रूपाणी दूसरी बार जिस ग्राउंड में शपथ लेंगे, उस ग्राउंड के साथ अपशगुन जुड़ा हुआ है. गुजरात में बीजेपी की पहली बार 1995 में सरकार बनी थी तो केशुभाई पटेल ने इसी हेलिपेड ग्राउंड में शपथ लिया था, लेकिन तीन साल के बाद उनकी सरकार गिर गई. इसके बाद किसी भी मुख्यमंत्री ने इस ग्राउंड में शपथ ग्रहण नहीं किया था. रूपाणी 22 साल के बाद हेलिपेड ग्राउंड में शपथ लेने की हिम्मत जुटा सके हैं.

तीसरा अपशगुन

गुजरात में बीजेपी के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण का विजय मुहर्त का समय निर्धारण है. इस मिथक को विजय रूपाणी तोड़ने जा रहे हैं. बता दें कि राज्य में चार बार मुख्यमंत्री रहे मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समय से ही शपथ ग्रहण के लिए प्रयुक्त होने वाले कथित मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 39 मिनट था. इसी समय पर मुख्यमंत्री शपथ लेते थे, इनमें मोदी से लेकर आनंदी बेन और पहली बार जब विजय रूपाणी मुख्यमंत्री बने थे , तो इसी विजय मुहर्त पर शपथ लिया था. लेकिन विजय रूपाणी इस बार विजय मुहर्त के बजाय 11 बजकर 20 मिनट पर शपथ लेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें