scorecardresearch
 

उजियारपुर सीटः क्या आरजेडी तीसरी बार जीत करेगी हासिल या एनडीए देगी महागठबंधन को मात

उजियारपुर विधानसभा क्षेत्र में पिछले दो चुनावों से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) का कब्जा बना हुआ है. 2015 के चुनावों में आएरएलएसपी के उम्मीदवार कुमार अनंत को शिकस्त देते हुए राजद के आलोक कुमार मेहता ने जीत हासिल की थी.

उजियारपुर विधानसभा सीट पर पिछले दो चुनावों से राजद का कब्जा उजियारपुर विधानसभा सीट पर पिछले दो चुनावों से राजद का कब्जा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कुशवाहा और यादव जाति के मतदाता निर्णायक
  • पिछले दो चुनावों में राजद को मिलती रही जीत
  • उजियारपुर में चुनावी मुकाबला दिलचस्प रहा है

बिहार में समस्तीपुर जिले में आने वाली उजियारपुर विधानसभा सीट पर इस बार मुख्य मुकाबला आरजेडी और बीजेपी के बीच है. आरजेडी ने आलोक कुमार मेहता, बीजेपी ने शील कुमार रॉय और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने प्रशांत कुमार पंकज को मैदान में उतारा है. इस सीट पर तीन नवंबर को मतदान होंगे जबकि 10 नवंबर को मतगणना होगी.

उजियारपुर विधानसभा सीट पर हमेशा चुनावी मुकाबला दिलचस्प रहा है. इस सीट पर कुशवाहा और यादव जाति के मतदाता निर्णायक भूमिका निभाते हैं. यही वजह से कि महागठबंधन की तरफ से लोकसभा चुनाव 2019 में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आएरएलएसपी) के उपेंद्र कुशवाहा उम्मीदवार थे, जबकि एनडीए की तरफ से यादव समाज से आने वाले नित्यानंद राय प्रत्याशी थे. 

उजियारपुर विधानसभा क्षेत्र में कुशवाहा और यादव मतदाताओं की अच्छी-खासी तादाद है, जो अतीत में जीत-हार में अपनी अहम भूमिका निभाते रहे हैं. उजियारपुर संसदीय क्षेत्र में 6 विधानसभा सीटें हैं, जिनमें पातेपुर, उजियारपुर, मोरवा, सरायरंजन, मोहिउद्दीन नगर और विभूतिपुर शामिल है. इनमें पातेपुर सीट आरक्षित है.

पिछले दो चुनाव से राजद का कब्जा 

बहरहाल, उजियारपुर विधानसभा क्षेत्र में पिछले दो चुनावों से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) का कब्जा बना हुआ है. 2015 के चुनावों में आएरएलएसपी के उम्मीदवार कुमार अनंत को शिकस्त देते हुए राजद के आलोक कुमार मेहता ने जीत हासिल की थी. आलोक कुमार मेहता ने 85,466 (52.2%) मत हासिल किए थे जबकि अनंत कुमार को 38,006 (23.2%) मतों से संतोष करना पड़ा था. अनंत कुमार को 47460 मतों से हार का सामना करना पड़ा था. 

उजियारपुर विधानसभा क्षेत्र में 2010 के चुनावों में राजद ने जीत हासिल की थी. राजद उम्मीदवार दुर्गा प्रसाद सिंह ने जदयू उम्मीदवार राम लखन महतो को मात दी थी. दुर्गा प्रसाद सिंह ने 42,791 (32.7%) मतों के साथ जीत हासिल की थी जबकि जदयू उम्मीदवार राम लखन महतो को 29,760 (22.8%) मतों के साथ दूसरे स्थान से संतोष करना पड़ा. राम लखन महतो को 13031 मतों से हार का सामना करना पड़ा. वहीं तीसरे स्थान पर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के अजय कुमार 11,160(8.5%) मतों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे.

जातिगत समीकरण 

उजियारपुर विधानसभा क्षेत्र की कुल आबादी 2011 की जनगणना के मुताबिक 446597 है जिनमें 94.66% जनसंख्या गांवों में रहती है जबकि 5.34% लोग शहरों में रहते हैं. इनमें अनुसूचित जाति और जनजाति का अनुपात क्रमशः 19.23 और 0.07 फीसदी है. 2019 की मतदाता सूची के मुताबिक 286314 मतदाता हैं. 2015 के विधानसभा चुनावों में 61.61% मतदान हुआ था. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें