scorecardresearch
 

बिहार के वोटरों के नाम सोनिया का संदेश- दिल्ली-बिहार में बंदी सरकार, अब बदलाव की बयार

बिहार चुनाव में पहले चरण के मतदान से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक वीडियो संदेश जारी किया है. सोनिया ने अपने संदेश में बिहार और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जारी किया संदेश (फाइल फोटो: PTI) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जारी किया संदेश (फाइल फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार के वोटरों के लिए सोनिया का संदेश
  • बिहार की सरकार अहंकार में डूबी: सोनिया गांधी
  • अब बिहार में बदलाव का वक्त है: सोनिया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार सुबह बिहार के वोटरों ने नाम एक संदेश दिया है, जिसमें उन्होंने मौजूदा नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए इस विधानसभा चुनाव में महागठबंधन का साथ देने की अपील की है. साथ ही सोनिया ने कहा कि अब बिहार में बदलाव की बयार है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर सोनिया गांधी के इस संदेश को जारी किया है. सोनिया गांधी का ये संदेश बिहार में पहले चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले आया है. 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि दिल्ली-बिहार में बंदी सरकारें हैं, नोटबंदी-तालाबंदी, व्यापारबंदी, आर्थिकबंदी, खेत खलिहान बंदी, रोटी-रोजगार बंदी. इसलिए ऐसी बंदी सरकार के खिलाफ बिहार की जनता तैयार है और अब बदलाव की बयार है.  

वीडियो संदेश में सोनिया गांधी ने कहा, ‘आज बिहार में सत्ता और उसके अहंकार में डूबी सरकार अपने रास्ते से अलग हट गई है, ना उनकी कथनी अच्छी है और ना ही करनी. मजदूर, किसान, नौजवान आज परेशान और निराश है. अर्थव्यवस्था की नाजुक स्थिति लोगों पर भारी पड़ रही है’.

देखें: आजतक LIVE TV

सोनिया ने अपने संदेश में कहा कि धरती के बेटों पर आज गंभीर संकट है, दलित-महादलितों को बेहाली की कगार पर छोड़ दिया गया है. समाज का पिछड़ा वर्ग इसी बदहाली का शिकार है, बिहार की जनता आवाज कांग्रेस-महागठबंधन के साथ है.

करीब पांच मिनट के संदेश में सोनिया गांधी ने आगे कहा कि बिहार के हाथों में गुण है, ताकत है लेकिन बेरोजगारी, पलायन, महंगाई ने आंखों में आंसू और पैरों में छाले दिए हैं. जो शब्द कहे नहीं जाते उन्हें आंसुओं से कहना पड़ता है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया ने कहा कि भय, डर के आधार पर नीतियां नहीं बनाई जा सकती हैं, बिहार भारत का आइना है, ये भारत की शान और अभिमान है. सोनिया गांधी ने कहा कि अब सवाल बेरोजगारी, खेती बचाने, स्वास्थ्य, शिक्षा का है.  

आपको बता दें कि खराब तबीयत होने के कारण सोनिया गांधी चुनाव प्रचार नहीं कर रही हैं. इस बार कांग्रेस नेता राहुल गांधी और उनकी टीम ने ही मोर्चा संभाला हुआ है. कांग्रेस बिहार में 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और महागठबंधन का हिस्सा है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें