scorecardresearch
 

बिहार की बिजली पर बोले नड्डा- पहले होता था...आई...आई...आई...गई...गई...गई...

जेपी नड्डा ने अपने भाषण में बिहार में बिजली के क्या हालात थे, उसका जिक्र किया. इसके साथ ही उन्होंने अपने भाषण में कहा कि 15 साल पहले जब बिहार में कोई चुनावी सभा करता था तो जाति, धर्म की बात होती थी, समाज को बांटने की बात होती थी, लेकिन चुनाव में आज हमारे उम्मीदवार विकास की बात करते हैं, सरकार की उपलब्धियां बताते हैं, ये बदलाव आया है.

बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान जेपी नड्डा बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान जेपी नड्डा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जेपी नड्डा ने बिहार के औरंगाबाद में की रैली
  • नड्डा ने कहा- नरेंद्र मोदी ने बदल दिया राजनीति का चाल-चरित्र
  • अब उम्मीदवार सभाओं में विकास की बात करते हैं- नड्डा

बिहार में आज पहले चरण के चुनाव का प्रचार थम जाएगा. 28 अक्टूबर को बिहार के 16 जिलों में 71 सीटों पर मतदान होगा. आखिरी दिन चुनाव प्रचार का भी जोर दिखा. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने औरंगाबाद में रैली की. नड्डा ने अपनी रैली में बिजली के साथ विकास के दूसरे काम भी गिनाए.

अपने भाषण में जेपी नड्डा ने कहा कि 15 साल पहले जब बिहार में कोई चुनावी सभा करता था तो जाति, धर्म की बात होती थी, समाज को बांटने की बात होती थी, लेकिन चुनाव में आज हमारे उम्मीदवार विकास की बात करते हैं, सरकार की उपलब्धियां बताते हैं, ये बदलाव आया है. जेपी नड्डा ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी आए हैं उन्होंने राजनीति का चाल-चरित्र बदल दिया है.

बिजली पर नड्डा ने दिया ये बयान

बिहार में बिजली सप्लाई का जिक्र करते हुए अपने बचपन का किस्सा सुनाया. नड्डा ने कहा,''मैं यहीं पढ़ा हूं. अगर दो घंटे भी बिजली आ जाती थी तो हम लोग बोलते थे आई...आई...आई...और जब तक आई...आई...बोलते थे तब तक गई...गई...गई...'' नड्डा ने कहा कि 24 घंटे बिजली तो हम सोच भी नहीं सकते थे. 

अराजकता वाले नौकरी कैसे देंगे

तेजस्वी यादव के नौकरी वाले वादे पर जेपी नड्डा ने कहा कि ये जो आज नौकरी की बात कर रहे हैं ये वही लोग हैं जिन्होंने बिहार में अराजकता फैलाई थी. ये तो नौकरी करने वालों को लेने वाले बने हुए थे. नड्डा ने कहा,''अराजकता की हद ये थी कि गोपालगंज का डीएम दलित था, वो गोपालगंज से पटना आ रहा था, गाड़ी से उतारकर उसकी जान ले ली, तब लालू प्रसाद यादव मुख्यमंत्री थे. आज जो पुलिस के डीजी हैं ये एसपी होते थे, शहाबुद्दीन ने इन्हें गोली मारी थी और गोली मारकर भी वो दनदनाता रहता था, लेकिन जब नीतीश जी की सरकार आई तो शहाबुद्दीन जेल गया.''

लेफ्ट से गठबंधन पर नड्डा ने कहा कि आरजेडी को माले ने हाईजैक कर लिया है. ऐसे में विध्वंस का ये रास्ता कहां जाएगा कुछ नहीं पता. 



ये भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें