scorecardresearch
 

तेजस्वी का नीतीश पर तंज, बिहार को 15 साल में नहीं दिला पाए विशेष राज्य का दर्जा, क्या ट्रंप देंगे?

तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में डबल इंजन की सरकार है. नीतीश कुमार बिहार में पिछले 15 वर्षों से सरकार चला रहे हैं लेकिन राज्य को विशेष राज्य का दर्जा आज तक नहीं दिला पाए.

राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महागठबंधन ने जारी किया अपना संकल्प पत्र
  • केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार-तेजस्वी
  • दस लाख लोगों को रोजगार मुहैया कराने का वादा

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आड़े हाथों लिया है. तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में डबल इंजन की सरकार है. नीतीश कुमार बिहार में पिछले 15 वर्षों से सरकार चला रहे हैं लेकिन राज्य को विशेष राज्य का दर्जा आज तक नहीं दिला पाए. यह समझौता करने के लिए डोनाल्ड ट्रंप नहीं आएंगे. तेजस्वी यादव ने यह बात महागठबंधन का घोषणा पत्र जारी किए जाने के दौरान कही. 

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, महागठबंधन का संकल्प पत्र जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग याद दिलाई. तेजस्वी यादव ने कहा कि अभी केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार है, लेकिन बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल सका. तंज कसते हुए तेजस्वी ने कहा कि क्या विशेष राज्य का दर्जा देने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप आएंगे.

असल में, आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन ने बिहार चुनाव के लिए शनिवार को अपना संकल्प पत्र जारी किया. 'प्रण हमारा, संकल्प बदलाव का' नाम वाले इस संकल्प पत्र को जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने सत्ता में आने के बाद दस लाख लोगों को रोजगार मुहैया कराने का संकल्प दोहराया. इस अवसर पर कांग्रेस के सीनियर लीडर रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित महागठबंधन के तमाम नेता मौजूद थे.

देखें: आजतक LIVE TV

संकल्प पत्र जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि सत्ता में आने के बाद नौकरी के लिए भरे जाने वाले आवेदनों में फीस माफ की जाएगी और परीक्षा केंद्र जाने के लिए किराया भी माफ किया जाएगा. उन्होंने कहा कि बिहार की जनता अगर उनके महागठबंधन को सत्ता में आने का मौका देती है तब नियोजित शिक्षकों की वर्षों पुरानी मांग 'समान काम, समान वेतन' को पूरा किया जाएगा. महागठबंधन के संकल्प पत्र में कृषि ऋण माफ करने का संकल्प लिया गया है जबकि राज्य में कर्पूरी श्रम आपदा केंद्र खोलने का वादा किया गया है.

बता दें कि बिहार विधानसभा के लिए तीन चरणों में होने वाले चुनाव के लिए मतदान 28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर होगा जबकि मतगणना 10 नवंबर होगी. आरजेडी इस चुनाव में कांग्रेस और वामपंथी दलों के साथ चुनावी मैदान में उतरी है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें