scorecardresearch
 

तेजस्वी की RJD उम्मीदवारों को हिदायत- जीत का जुलूस न निकालें, जश्न जनता मनाएगी

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि नतीजों के बाद उम्मीदवार अपने क्षेत्र में जीत का जुलूस नहीं निकालें. तेजस्वी ने कहा जीत का जश्न जनता मनाएगी.

X
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव आरजेडी नेता तेजस्वी यादव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'उम्मीदवार जीत का जुलूस नहीं निकालें'
  • 'आम जनता को न हो कोई परेशानी'
  • नतीजों से पहले तेजस्वी ने भेजा संदेश

तेजस्वी यादव ने आरजेडी के उम्मीदवारों को संदेश भेजा है. अपने संदेश में तेजस्वी यादव ने कहा है 10 तारीख को जब नतीजे सामने आएंगे तो राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवार बेहद सरलता और सादगी का परिचय दें.

तेजस्वी ने कहा है कि नतीजों के बाद उम्मीदवार अपने क्षेत्र में जीत का जुलूस नहीं निकालें. तेजस्वी ने कहा जीत का जश्न जनता मनाएगी. तेजस्वी ने कहा है कि उम्मीदवार नतीजों के दौरान अपने क्षेत्र में रहें और अपना सर्टिफिकेट लेने के बाद ही पटना का रुख करें.

इस दौरान नेताओं को हिदायत दी गई है कि जीत का कोई जुलूस ना निकाला जाए जिससे आम लोगों को असुविधा हो. उम्मीदवारों तक यह संदेश पहुंचाने के लिए 4 लोगों की टीम बनाई गई है जिसमें सुनील सिंह, संजय यादव, श्याम रजक और जगदानन्द सिंह शामिल हैं. 

इस बीच जीत की उम्मीद में पटना में RJD दफ्तर में साफ-सफाई शुरू हो गई है. आस-पास मरम्मत का काम जोर-शोर से किया जा रहा है. 

पटना स्थित आरजेडी ऑफिस

 

इस मामले पर आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह ने कहा कि जनता जीती है जश्न जनता मनाएगी यही संदेश सबको भेजा गया है. 

उन्होंने कहा कि जब तक प्रमाण पत्र नहीं मिलता कोई उम्मीदवार सेंटर नहीं छोड़ेगा. जगदानंद सिंह ने कहा कि जश्न और उदंडता में फर्क है. बता दें कि 9 नवंबर को तेजस्वी यादव का जन्मदिन भी है. इस पर जगदानंद सिंह ने कहा कि जैसे पहले जन्मदिन मनाया जाता था, वैसे ही इस बार भी मनाया जाएगा. कोई अतिरिक्त जश्न नहीं होगा.

जगदानंद सिंह ने कहा कि हमारे आस्था के प्रतीक लालू यादव को बेल नहीं मिली, क्योंकि कुछ लोग नहीं चाहते हैं कि शपथ ग्रहण के समय लालू जी मौजूद रहें. जब वो जेल से बाहर आएंगे तब हमारी होली और दिवाली मनेगी. 

बता दें कि तकरीबन हर बड़े एग्जिट पोल में बिहार में बड़े महागठबंधन की बड़ी जीत का अनुमान जताया गया है. आजतक एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक बिहार में एनडीए को 69 से 91 सीटें मिल सकती हैं. जबकि महागठबंधन को 139-161 को सीटें मिल सकती हैं. चिराग पासवान की पार्टी एलजेपी को 3 से 5 सीटें मिल सकती हैं. वहीं अन्य को 06-10 सीटें मिलने का अनुमान जताया जा रहा है. यही नहीं मुख्यमंत्री के तौर पर भी तेजस्वी बिहार के लोगों की पहली पसंद बताए जा रहे हैं. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें