scorecardresearch
 

चिराग और उपेंद्र पर बोले नीतीश कुमार- BJP को ही करना है फैसला

बिहार विधानसभा चुनावों के ऐलान के बाद राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि चुनाव में कोई चुनौती नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा कि जनता मालिक है. जनता मौका देगी तो आगे भी सेवा करेंगे.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नीतीश कुमार ने गिनाए अपने 7 दृढ़ निश्चय
  • कहा- जनता ने फिर मौका दिया तो करेंगे पूरा
  • नीतीश कुमार ने कहा- हमारा काम है सेवा करना

बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. कोरोना वायरस संकट के बीच देश में होने वाले ये पहले बड़े चुनाव हैं. शुक्रवार को चुनाव आयोग की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन तारीखों का ऐलान किया गया. इस बार बिहार में तीन चरणों में मतदान होंगे और 10 नवंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. 28 अक्टूबर को पहले चरण के लिए मतदान होगा, जबकि दूसरे चरण के लिए 3 नवंबर और सात नवंबर को तीसरे चरण की वोटिंग होगी. चुनावों के ऐलान के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि चुनाव में कोई चुनौती नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा कि जनता मालिक है. जनता मौका देगी तो आगे भी सेवा करेंगे. मेरा कोई निजी स्वार्थ तो है नहीं. पूरा बिहार ही मेरा परिवार है. कुछ लोगों के लिए पत्नी, बेटा परिवार है. मेरे लिए तो बिहार ही परिवार है.

एनडीए में सीटों के बंटवारे को लेकर पूछे गए एक सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि सीटों को लेकर अभी तक आपस में कोई बात नहीं हुई है. नीतीश कुमार ने कहा, "रामविलास जी से हमारे अच्छे संबंध रहे हैं. अब चुनाव की घोषणा हो चुकी है, अब बात होगी." चिराग पासवान की नाराजगी पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी के पूर्व से सहयोगी रहे दलों के ऊपर कुछ भी नहीं कहना है. बीजेपी इस मामले को खुद से देख रही होगी और संभव है कि उनसे बातचीत भी हुई होगी.

हाल ही में महागठबंधन से दूरी का ऐलान करने वाली आरएलएसपी के नेता उपेंद्र कुशवाहा से जुड़े एक सवाल के जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए में 2014 से जो बीजेपी के पार्टनर रहे हैं, उन पर फैसला भारतीय जनता पार्टी को करना है. नीतीश कुमार ने कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले जो बीजेपी का साथ छोड़ कर चले गए और जो रह गए दोनों के ऊपर बीजेपी को ही फैसला करना है.

बिहार चुनावों के ऐलान के बाद पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में नीतीश कुमार ने कहा कि हमने 7 दृढ़ निश्चय तय किए हैं. अगर जनता फिर से मौका देगी तो इन्हें प्रमुखता से पूरा करेंगे. नीतीश कुमार ने कहा कि चुनाव आयोग द्वारा आज घोषित किए गए बिहार विधानसभा चुनावों की तारीखों का हम स्वागत करते हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि हमारा काम है सेवा करना है, लोगों ने मौका दिया था सेवा करने का तो हम सेवा करने को ही अपना धर्म मानते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें