scorecardresearch
 

नड्डा से फिर मिले चिराग पासवान, सीट शेयरिंग पर बात करने को अमित शाह भी थे मौजूद

एलजेपी नेता चिराग पासवान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने पहुंचे थे. इस मुलाकात के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. बैठक के बारे में बताया जा रहा है कि नेताओं के बीच बिहार चुनाव को लेकर सीट शेयरिंग पर बात हुई.

एलजेपी नेता चिराग पासवान सीटों को लेकर हैं नाखुश (फाइल फोटो) एलजेपी नेता चिराग पासवान सीटों को लेकर हैं नाखुश (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जे पी नड्डा से मिलने पहुंचे थे चिराग पासवान
  • बैठक में अमित शाह के भी मौजूद होने की खबर
  • सीट शेयरिंग पर हुई तीनों नेताओं की बात

बिहार में चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन भी आज से शुरू हो गए हैं. लेकिन अभी तक राज्य की राजनीतिक पार्टियों के उम्मीदवार ही फाइनल नहीं पा रहे हैं. ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि बिहार में इस बार गठबंधन में चुनाव लड़ने को वरीयता दी जा रही है. तीन गठबंधन सामने आ चुके हैं. ऐसे में गठबंधन में सीटों के बंटवारे पर अंतिम फैसला बन नहीं पा रहा है.

इसी क्रम में एलजेपी नेता चिराग पासवान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने पहुंचे थे. इस मुलाकात के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. बैठक के बारे में बताया जा रहा है कि नेताओं के बीच बिहार चुनाव को लेकर सीट शेयरिंग पर बात हुई.

सूत्रों के हवाले से जानकारी सामने आई है कि चिराग पासवान की अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ मुलाकात के दौरान सीटों के बंटवारे को लेकर जारी गतिरोध को खत्म करने के विकल्पों पर चर्चा हुई. हालांकि चिराग पासवान बिहार चुनावों में 42 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने के फैसले पर कायम हैं. उन्होंने बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व के सामने किसी भी सीट शेयरिंग फॉर्मूले में 42 सीटों की मांग रखी है.

सूत्रों के मुताबिक अगले 2 दिन में चिराग पासवान के बीजेपी नेताओं के साथ एक और निर्णायक बैठक हो सकती है. जिसमें सीट शेयरिंग फॉर्मूले पर फैसला लिया जाएगा. बीजेपी माना जा रहा है कि केंद्रीय चुनाव समिति की 4 तारीख को होने वाली बैठक से पहले बीजेपी और लोक जनशक्ति पार्टी के बीच सीटों के बंटवारे पर अंतिम फैसला हो सकता है.

आपको बता दें कि सीट शेयरिंग को लेकर चिराग लगातार अपनी नाराजगी जताते रहे हैं. इसी मुद्दे पर इससे पहले भी नड्डा और चिराग की मुलाकात हो चुकी है. सूत्रों के मुताबिक, लोक जनशक्ति पार्टी  (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार रात भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी. बताया जा रहा है कि उस मुलाकात में चिराग ने अल्टीमेटम दिया था कि बीजेपी सीटों के शेयरिंग पर जल्द फैसला करे वरना एलजेपी 143 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी.  

सूत्रों के मुताबिक, नड्डा से उस मुलाकात के दौरान चिराग ने कहा था कि जेडीयू लोक जनशक्ति पार्टी  (LJP) के साथ गठबंधन नहीं चाहती है. इसलिए जेडीयू उम्मीदवारों के खिलाफ LJP प्रत्याशी उतारे जा सकते हैं. वहीं दूसरी ओर मंगलवार को लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव शाहनवाज अहमद ने कहा था कि पार्टी की ओर से चिराग ही मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे, इसमें कोई शक नहीं है. 

गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी थी

लोक जनशक्ति पार्टी ने एनडीए में विधानसभा चुनाव के लिए 42 सीटों तक की मांग रखी है, लेकिन अभी बीजेपी-जदयू की ओर से कुछ फाइनल नहीं हुआ है. पिछले दिनों चिराग पासवान ने इसी मसले पर गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी थी. इस चिट्ठी में चिराग ने तय वक्त पर सीट बंटवारा ना होने पर सवाल खड़े किए थे. 

2015 में LJP 42 सीटों पर चुनाव लड़ी थी

चिराग पासवान की पार्टी की ओर से दावा किया जा रहा है कि अगर उन्हें सम्मानजनक सीटें नहीं मिलती है तो वो अकेले दम पर बिहार में 140 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार हैं. बता दें कि पिछले चुनाव में भी LJP 42 सीटों पर चुनाव लड़ी थी, लेकिन दो पर ही जीत दर्ज कर पाई थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें