scorecardresearch
 

सुप्रीम कोर्ट का बिहार चुनाव टालने से इनकार, बोले- चुनाव आयोग फैसला लेने में सक्षम

कोरोना संकट काल के बीच सुप्रीम कोर्ट ने बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को टालने से इनकार कर दिया है. देश में ये पहला विधानसभा चुनाव है जो कोरोना संकट के बीच हो रहा है.

बिहार में होने हैं विधानसभा चुनाव बिहार में होने हैं विधानसभा चुनाव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार में विधानसभा चुनाव टालने से SC का इनकार
  • चुनाव आयोग ले सकता है फैसला: SC

कोरोना संकट काल के बीच सुप्रीम कोर्ट ने बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को टालने से इनकार कर दिया है. शुक्रवार को ही चुनाव आयोग को बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान करना है. इससे पहले सर्वोच्च अदालत में चुनाव को टालने की अपील की गई थी.

दरअसल, सर्वोच्च अदालत में याचिका दायर की गई थी जिसमें कहा गया था कि कोरोना संकट काल की वजह से अभी चुनाव के लिए हालात ठीक नहीं हैं. ऐसे में मतदान को टाल दिया जाए. जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम पहले ही साफ कर चुके हैं कि चुनाव आयोग हालात के मुताबिक फैसला लेने में समर्थ है. 

आपको बता दें कि शुक्रवार को ही चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा है. जिसमें बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा. इस बार कोरोना संकट काल के कारण चुनाव में काफी बदलाव होगा.

बिहार में 2015 में पांच चरणों में मतदान हुआ था, लेकिन इस बार पोलिंग बूथ की संख्या को डेढ़ गुना करते हुए चरणों को घटाया जा सकता है. साथ ही चुनाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और अन्य कई नियमों का पालन जरूरी होगा.

कोरोना संकट की वजह से पहले ही राजनीतिक दल वर्चुअल तरीके से प्रचार में जुटे हैं, साथ ही नियमों के बीच जनसंपर्क किया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट इससे पहले भी चुनाव को लेकर किसी तरह का आदेश जारी करने से इनकार कर चुका है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें