scorecardresearch
 

बिहार चुनाव: तेजस्वी का वार-नीतीश सरकार से नाराज है जनता, हमारा मुकाबला बीजेपी से

बिहार में चुनावी बिगुल बज गया है. चुनाव आयोग ने शुक्रवार को तारीखों का ऐलान किया. राजद नेता तेजस्वी यादव ने अब नीतीश सरकार पर निशाना साधा है और कहा है कि इस बार जनता उन्हें हटाकर रहेगी.

तेजस्वी ने नीतीश सरकार को घेरा तेजस्वी ने नीतीश सरकार को घेरा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान
  • तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर साधा निशाना

बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. इस बार राज्य में तीन चरणों में मतदान होगा. तारीखों के ऐलान के बाद ही राजनीतिक दलों की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई है. राष्ट्रीय जनता दल के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने तारीख के ऐलान का स्वागत किया है, साथ ही कहा कि ये चुनाव नीतीश सरकार को हटाने वाला है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि इस चुनाव में जदयू मायने नहीं रखती है, उनकी सीधी लड़ाई भारतीय जनता पार्टी से है. लोग इस सरकार से नाराज हैं और छुटकारा चाहते हैं. 

तेजस्वी के अलावा राजद के ही सांसद मनोज झा ने भी नीतीश सरकार पर निशाना साधा. मनोज झा ने कहा कि मतदान सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक होना चाहिए. साथ ही, एक पोलिंग बूथ पर 750 मतदाता ही वोट दें. उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में इसलिए मतदान केंद्रों की संख्या को बढ़ाया जाना चाहिए.

राजद नेता बोले कि बिहार में कितना विकास हुआ है, ये मुजफ्फरपुर की बेटियों से पूछिए. कैसे उद्घाटन से पहले ही पुल बह जा रहे हैं, कोरोना संकट में कोटा से बच्चों को नहीं लाया गया. क्या यही विकास है. उन्होंने कहा कि राजद को कितनी सीटें मिलेंगी ये नहीं बता सकता, लेकिन मुख्यमंत्री आवास में बदलाव जरूर होगा. 

मनोज झा ने बताया कि पिछले छः महीने से तेजस्वी यादव हमारा संकल्प तैयार कर रहे हैं, आप को पता चल जायेगा कि बिहार के लिए विकास क्या चाहता हूं.

आपको बता दें कि इससे पहले भाजपा और जदयू की ओर से दावा किया गया कि इस बार भी चुनाव में नीतीश सरकार की जीत होगी और लोकसभा चुनाव से अच्छा स्ट्राइक रेट लाया जाएगा. एनडीए ने इस बार 15 साल बेमिसाल के नारे पर चुनाव लड़ने की बात कही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें