scorecardresearch
 

तेज प्रताप यादव बोले- दूसरे लालू यादव हम हैं और कोई नहीं, इसलिए विरोधी कर रहे प्रताड़ित

तेज प्रताप ने कहा कि विरोधी लालू परिवार को प्रताड़ित करने का काम कर रहे हैं. विरोधी जान रहे हैं, दूसरे लालू यादव हम हैं और कोई नहीं है. लोग कह रहे हैं कि हम महुआ से चुनाव नहीं लड़ेंगे. पूरा बिहार मेरा अपना है, हम बिहार में कहीं से चुनाव लड़ सकते हैं.

बिहार में इसी साल विधानसभा चुनाव होना है बिहार में इसी साल विधानसभा चुनाव होना है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तेज प्रताप का विरोधियों पर बड़ा आरोप
  • हम बिहार में कहीं से चुनाव लड़ सकते हैं
  • नेता नहीं कार्यकर्ता को ज्यादा वैल्यू देते हैं

बिहार चुनाव की बिसात बिछने लगी है. इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल जोरशोर से तैयारियों में जुटे हैं. इस बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. RJD नेता तेज प्रताप यादव ने विरोधियों पर बड़ा आरोप लगाया है.

तेज प्रताप ने कहा कि विरोधी लालू परिवार को प्रताड़ित करने का काम कर रहे हैं. विरोधी जान रहे हैं, दूसरे लालू यादव हम हैं और कोई नहीं है. लोग कह रहे हैं कि हम महुआ से चुनाव नहीं लड़ेंगे. पूरा बिहार मेरा अपना है, हम बिहार में कहीं से चुनाव लड़ सकते हैं.

तंज भरे लहजे में तेज प्रताप ने कहा, 'नीतीश चाचा घर से बाहर निकल ही नहीं रहे हैं. नई नवेली दुल्हन की तरह घूंघट ओढ़कर घर में छुपे हुए हैं. विरोधी का रोजी रोटी हम लोगों से ही चलती है. नेता को हम वैल्यू नहीं देते हैं, कार्यकर्ता को ज्यादा वैल्यू देते हैं.'

चुनाव से पहले रार!

चुनाव से पहले सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में रार चल रही है. लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. चिराग के तेवर अलग ही संकेत दे रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दावा है कि एनडीए के सभी घटक दल साथ मिलकर बिहार के चुनावी रण में उतरेंगे. 

आत्मनिर्भर बिहार कार्यक्रम में बोलते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नडा ने साफ कर दिया कि भाजपा और एलजेपी, नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. 

भाजपा 50-50 का फॉर्मूला चाहती है

इससे पहले बिहार की राजधानी पटना पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री आवास पहुंच कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. जेपी नड्डा और नीतीश कुमार के बीच हुई बैठक में सीट बंटवारे को लेकर चर्चा हुई. कहा जा रहा है कि भाजपा 50-50 का फॉर्मूला चाहती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें