scorecardresearch
 

बिहार विधानसभा चुनाव पर पैनी नजर रखेंगे 78 IAS, नियुक्त किए गए पर्यवेक्षक

मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार, बिहार चुनाव के लिए नियुक्त सभी पर्यवेक्षक अपने-अपने क्षेत्रों में चुनावी प्रक्रिया पर नजर रखेंगे और इलेक्शन कमीशन को इसकी रिपोर्ट करेंगे.

बिहार में चुनाव की मतगणना 10 नवंबर को होगी बिहार में चुनाव की मतगणना 10 नवंबर को होगी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • EC ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव को लिखा पत्र
  • 78 IAS अधिकारी बतौर पर्यवेक्षक नियुक्त हुए
  • बिहार में चुनाव की मतगणना 10 नवंबर को होगी

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तारीखों के ऐलान के बाद से जगह-जगह चौकसी बढ़ा दी गई है. चुनाव को सफल बनाने के लिए स्थानीय स्तर पर पुलिस प्रशासन मुस्तैद है. वहीं चुनावी प्रक्रिया पर पैनी नजर रखने के लिए इलेक्शन कमीशन ने 78 आईएएस अधिकारियों को बतौर पर्यवेक्षक नियुक्त किया है.

दरअसल, इलेक्शन कमीशन ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव को एक पत्र लिखा है, जिसमें उत्तर प्रदेश कैडर के 78 आईएएस अधिकारियों को बिहार चुनाव के लिए पर्यवेक्षकों के रूप में नियुक्त करने के निर्णय से उन्हें अवगत कराया है.

मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार, बिहार चुनाव के लिए नियुक्त सभी पर्यवेक्षक अपने-अपने क्षेत्रों में चुनावी प्रक्रिया पर नजर रखेंगे और इलेक्शन कमीशन को इसकी रिपोर्ट करेंगे. पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किए गए अधिकांश आईएएस अधिकारी 1996 से 2014 बैच के हैं.

बिहार में 28 अक्टूबर को पहले चरण के मतदान होने वाले हैं. इसके लिए इलेक्शन कमीशन ने अन्य राज्यों के आईएएस अधिकारियों को भी बिहार चुनाव के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया है. इनमें से अधिकांश अधिकारी कुछ दिनों में बिहार पहुंचेंगे. यहां विधानसभा क्षेत्रों में उनकी नियुक्ति की जाएगी.

बता दें कि बिहार में मतदान 28 अक्तूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को तीन चरणों में होगा. जबकि मतगणना 10 नवंबर को होगी.

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें