scorecardresearch
 
बिहार विधानसभा चुनाव

Bihar: मंत्री बनने के बाद तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव!

तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव
  • 1/5

लालू यादव के छोटे बेटे और महागठबंधन से मुख्‍यमंत्री पद के दावेदार तेजस्‍वी यादव का अतीत उनके वर्तमान से कम दिलचस्‍प नहीं है. 2020 के विधानसभा चुनाव में जनता उन्‍हें कितना पसंद करेगी ये तो 10 नवंबर को मतगणना के बाद ही पता चलेगा लेकिन लड़कियों में उनका कितना क्रेज है इसका अंदाजा 2016 की एक घटना से लगाया जा सकता है.

तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव
  • 2/5

दरअसल, बिहार में पुरानी मीडिया रिपोर्ट्स से पता चलता है कि 2016 में तेजस्‍वी नीतीश सरकार में उप मुख्‍यमंत्री के साथ सड़क न‍िर्माण मंत्री थे. 2016 में ही अक्‍टूबर के महीने में उन्‍होंने सड़क न‍िर्माण संबंधी शिकायतों के लिए जनता से सीधा संवाद करना चाहा. इसके लिए उन्‍होंने अपना एक व्‍हाट्सअप नंबर सार्वजन‍िक कर दिया था. लेकिन वो ये देख कर हैरान हो गए कि शिकायतों से ज्‍यादा लड़कियों के प्रपोजल आने शुरू हो गए. आरजेडी के नेताओं की मानें तो उन्‍हें 42 हजार से ज्‍यादा विवाद के प्रस्‍ताव मिले थे. 

 

तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव
  • 3/5

तेजस्‍वी राजनीति में आने से पहले क्रिकेट में अपना करियर तलाश रहे थे. ये बात सभी जानते हैं. लेकिन बिहार के बाहर के लोगों को इस बात की जानकारी कम है कि तेजस्‍वी एक वक्‍त आईपीएल के प्‍लेयर भी थे. वह 2008 से 2012 तक दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की टीम के सदस्‍य थे लेकिन उन्‍हें कभी भी ग्राउंड पर उतरने का चांस नहीं मिला. वह हमेशा पवेलियन में रहे. हालांकि इससे पहले वह झारखंड की स्‍टेट क्रिकेट टीम के सदस्‍य के तौर पर रणजी ट्रॉफी खेल चुके थे.

तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव
  • 4/5

बाद में वे पिता लालू यादव के नक्‍शे कदम पर चलते हुए राजनीत‍ि में आ गए. लालू के बारे में कहा जाता है कि वह राजनीतिक रूप से अपने बड़े बेटे तेज प्रताप से ज्‍यादा छोटे बेटे तेजस्‍वी को पसंद करते थे. यही वजह थी कि 2015 के चुनाव में जब राजद और जदयू की संयुक्‍त सरकार बनी तब लालू ने तेजस्वी को डिप्‍टी सीएम बनवाया. बाद में जदयू ने भाजपा के साथ सरकार बना ली तो महज 27 वर्ष की उम्र में वह नेता प्रतिपक्ष बने जो कि एक रिकॉर्ड है.

तेजस्वी यादव को मिले थे 42000 विवाह प्रस्‍ताव
  • 5/5

इस बार विधानसभा चुनाव में तेजस्‍वी महागठबंधन को लीड कर रहे हैं. उनके थिंक टैंक पिता लालू यादव जेल में हैं इसलिए सबकी नजर तेजस्‍वी पर है. चुनाव में सफलता के लिए तेजस्‍वी ने युवा वोटर्स को अपने साथ जोड़ने की कोशिश की है. उनका 10 लाख नौकरी का वादा इस चुनाव में हॉट केक साबित हुआ है. रोजगार का मुद्दा इस कदर हिट हुआ कि बाकी पार्टियों को भी इसे चुनावी घोषणापत्र में शामिल करना पड़ा.