scorecardresearch
 
बिहार विधानसभा चुनाव

तेजस्वी यादव की जनसभा में उमड़ा जनसैलाब, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ीं धज्जियां

लखीसराय और जमुई तेजस्‍वी यादव की हुई चुनावी सभा (फोटो ट्विटर)
  • 1/5

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए चुनाव प्रचार कर रहे तेजस्वी यादव की जनसभा में उमड़ी भीड़ ने पुलिस प्रशासन के होश उड़ा दिए. रैली में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ती दिखीं. तेजस्वी के मंच पर पहुंचते ही भीड़ इस कदर बेकाबू हुई कि पुलिस को लाठियां तक चलानी पड़ीं. मंच पर पहुंचे तेजस्वी ने सभा में आए सभी लोगों अभिवादन करते हुए कहा कि ये बिहार में बदलाव की लहर है. इस दौरान उन्होंने नीतीश सरकार पर भी जमकर निशाना साधा. 

 

 

लखीसराय और जमुई तेजस्‍वी यादव की हुई चुनावी सभा (फोटो ट्विटर)
  • 2/5

सूर्यगढ़ा विधानसभा क्षेत्र के चानन में तेजस्वी यादव ने जनता से कहा कि गरीबों की सरकार बनाएं और महागठबंधन के प्रत्याशी को जीत दिलाएं. साथ ही उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने कहा कि ऐसा कोई सगा नहीं है, जिसे नीतीश ने ठगा नहीं है.

तेजस्‍वी यादव (फोटो एएनआई)
  • 3/5

तेजस्वी ने कहा कि नीतीश सरकार ने रोजगार के नाम पर लोगों को ठगा है युवाओं को धोखा दिया है, उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकारी बनने पर 10 लाख रोजगार देंगे. शिक्षकों को वेतन देंगे. जीविका दीदी, आंगनबाड़ी सेविका सहायिका सहित अन्य को सरकारी दर्जा देंगे. वृद्धापेंशन को चार सौ से हजार रुपये किया जाएगा. उन्‍होंने कहा सूर्यगढ़ा से प्रह्लाद यादव और लखीसराय से अमरेश सिंह को वोट दें. 

लखीसराय और जमुई तेजस्‍वी यादव की हुई चुनावी सभा (फोटो ट्विटर)
  • 4/5

इसके अलावा तेजस्वी ने बीजेपी और जेडीयू पर तीखे हमले किए और कहा कि 15 साल में प्रदेश में सुई का भी एक कारखाना नहीं लग सका. उन्होंने अपने पिता लालू यादव की उपलब्धि भी गिनाई और कहा कि लालूजी ने मधेपुरा और मढ़ौरा में रेलवे का कारखाना लगाने का काम किया था.  

लखीसराय और जमुई तेजस्‍वी यादव की हुई चुनावी सभा (फोटो ट्विटर)
  • 5/5

तेजस्वी ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण से जितने लोग नहीं मरे उससे कहीं ज्यादा मौतें भूख और तबाही से हुई हैं. कोरोना से बचाव के नाम पर भारी घोटाला हुआ है, जिसकी जांच होनी चाहिए और उनकी सत्ता आई तो किसी के साथ किसी तरह का कोई भेदभाव नहीं होगा.