scorecardresearch
 

मालदा रैली में योगी बोले- 2 मई के बाद जान की भीख मांगेंगे TMC के गुंडे, गो-तस्करी पर हम लगाएंगे रोक

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बंगाल में चुनावी सभा को संबोधित किया. यूपी सीएम योगी ने यहां कहा कि बंगाल में आज अराजकता की स्थिति है, जिससे पूरे देश में दुख होता है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मिशन बंगाल पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ
  • मालदा में रोड शो और चुनावी सभा का कार्यक्रम
  • बंगाल में अराजकता, ममता सरकार फेल: योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बंगाल में चुनावी सभा को संबोधित किया. बंगाल के मालदा में योगी आदित्यनाथ की रैली हुई, जहां उनके निशाने पर राज्य की ममता सरकार रही. योगी ने आरोप लगाया कि बंगाल में जय श्री राम के नारे बोलने से भी रोका जाता है.

यूपी सीएम ने कहा कि एक महीने में बंगाल की धरती पर परिवर्तन दिखाई देगा. बंगाल में एक बुजुर्ग माता को टीएमसी के गुंडों ने पीटा, लेकिन सरकार ने कोई एक्शन नहीं लिया. योगी ने कहा कि 2 मई के बाद टीएमसी के गुंडे जान की भीख मांगेंगे और गली में तख्ती लटकाकर माफी मांगेंगे.

'जो राम का द्रोही, वो काम का नहीं'
यूपी सीएम बोले कि कभी भारत को नेतृत्व देने वाला बंगाल आज बदहाल है. बंगाल में सत्ता प्रायोजित अपराध और आतंकवाद देश की सुरक्षा को कड़ी चुनौती दे रहा है. बंगाल में शक्ति की पूजा होती है, लेकिन यहां पर दुर्गा पूजा पर पाबंदी लगाई जाती है. ईद पर जबरदस्ती गोहत्याएं करवाई जाती है, गोतस्करी से भावनाओं को नुकसान पहुंचाया जाता है.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बंगाल में जय श्री राम के नारे लगाने से रोका जाता है, अयोध्या में भी एक सरकार ने रामभक्तों पर गोली चलाई थी, उसका हश्र सभी ने देखा है. जो भी राम का द्रोही है, उनका बंगाल में कोई काम नहीं है. 

CAA और लव जिहाद के मसले पर घेरा 
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि CAA जब लागू हुआ तो बंगाल में हिंसा क्यों होती है, ये सत्ता की प्रायोजित हिंसा है. बंगाल में आयुष्मान भारत योजना को लागू नहीं किया गया, केंद्र की किसी भी योजना का लाभ यहां के लोगों को नहीं मिल रहा है. योगी बोले कि बंगाल में लव जिहाद को अंजाम दिया जा रहा है, यहां की सरकार इसे रोक नहीं पा रही है. 

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने यहां सभा में कहा कि मालदा सनातन संस्कृति की भूमि है. बंगाल में आज अराजकता की स्थिति है, जिससे पूरे देश में दुख होता है. बंगाल में बीजेपी की सरकार बनाकर एक नए परिवर्तन को आगे बढ़ाना है. बंगाल परिवर्तन की धरती रही है, इसी धरती से वंदे मातरम का उद्घोष निकला था.

गो-तस्करी पर योगी ने किया वार
यूपी सीएम योगी ने यहां कहा कि मोदी सरकार ने धारा 370 को खत्म कर दिया, अयोध्या में राम मंदिर का भी निर्माण हो रहा है. मालदा रैली में यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई सीएम (ममता बनर्जी) कैसे अपना आपा खो सकता है. योगी ने कहा कि गो-हत्या रोकने के लिए काम किया जा रहा है, आज यूपी में कोई गो-हत्या नहीं कर सकता है. योगी ने ऐलान किया कि बंगाल में बीजेपी की सरकार आई तो 24 घंटे में गो-तस्करी बंद करवा देंगे. 
योगी बोले कि यहां की सरकार मुहर्रम को अनुमति देती है, लेकिन दुर्गा पूजा पर रोक लगा दी. लेकिन हमने यूपी में दुर्गा पूजा के समय को नहीं बदला. यूपी सीएम ने कहा कि हम स्वामी विवेकानंद की परंपरा को प्रणाम करते हैं.

बंगाल पहुंचने से पहले योगी का ट्वीट

पश्चिम बंगाल पहुंचने से पहले यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया था. यूपी सीएम ने ट्वीट किया कि नमस्कार बंगाल...सनातन संस्कृति की जागृत धरा पर आज आप सभी के बीच उपस्थित होने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हो रहा है. 'वंदे मातरम्' के अमर उद्घोष से सम्पूर्ण देश की राष्ट्रीय चेतना को जागृत करने वाली वीर भूमि को मेरा नमन...जय श्री राम'.

 

मालदा पर क्यों है भाजपा की नजर? 
मालदा बंगाल में इसलिए भी खास है, क्योंकि यहां पर अधिकतर वोटर मुस्लिम समुदाय से आते हैं. ऐसे में टीएमसी के गढ़ में सेंध लगाने का जिम्मा बीजेपी की ओर से फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ को दिया गया है. 

हालांकि, ये मालदा के इलाके में भाजपा पहले भी सेंधमारी कर चुकी है. 2019 के लोकसभा चुनाव में मालदा उत्तर की लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने कब्जा किया था, इसके अलावा पिछले विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी ने इसी क्षेत्र की वैष्णवनगर सीट को जीता था. यही कारण है कि बीजेपी को उम्मीद है कि योगी के नाम पर वो इस इलाके में अपनी पकड़ को मजबूत कर सकती है.

मालदा का ये इलाका बांग्लादेश की सीमा से सटा है, जो कि लगातार हथियारों की स्मगलिंग, जाली नोटों की स्मगलिंग के कारण सुर्खियों में रहता है. बीते दिनों भी बंगाल में सीमा से तस्करी का मामला सुर्खियों में बना हुआ है. 

मालदा जिले में दो चरणों में मतदान
गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान चुनाव आयोग ने कर दिया है. पूरे बंगाल में कुल आठ चरणों में मतदान होना है. वहीं, मालदा जिले में कुल 12 विधानसभा सीटें हैं, यहां पर दो चरणों में मतदान होना है.

इस जिले के मतदाता 26 और 29 अप्रैल को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. इस जिले में पिछली बार तृणमूल कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया था, जबकि भाजपा ने 2 सीटें जीतीं थीं. इस इलाके में कांग्रेस को सबसे अधिक 8 सीटों पर जीत मिली थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें