scorecardresearch
 

बंगाल: मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद शुभेंदु के अगले कदम पर नजर, BJP ने खोले दरवाजे

शनिवार को बीजेपी ने कहा कि पार्टी शुभेंदु अधिकारी के संपर्क में है. राज्य में इस बात की चर्चा है कि शुभेंदु अधिकारी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. वहीं टीएमसी को उम्मीद है कि शुभेंदु अधिकारी से संवाद स्थापित कर पार्टी उन्हेें मनाने में कामयाब होगी.

TMC नेता शुभेंदु अधिकारी (फोटो- ट्विटर) TMC नेता शुभेंदु अधिकारी (फोटो- ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शुभेंदु अधिकारी के अगले कदम पर निगाहें
  • बीजेपी ने शुभेंदु के लिए खोले दरवाजे
  • टीएमसी ने मनाने के लिए शुरू की बातचीत

पश्चिम बंगाल की राजनीति में घमासान चल रहा है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विश्वास पात्र रहे सुभेंदु अधिकारी ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उनका इस्तीफा भी स्वीकार कर लिया है. हालांकि रोचक ये है कि सुभेंदु अधिकारी ने न तो विधायक पद से इस्तीफा दिया और न ही टीएमसी की सदस्यता से. अब सुभेंदु अधिकारी के अगले कदम पर लोगों की निगाहें टिकी हैं.

शनिवार को बीजेपी ने कहा कि पार्टी शुभेंदु अधिकारी के संपर्क में है. राज्य में इस बात की चर्चा है कि शुभेंदु अधिकारी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. वहीं टीएमसी को उम्मीद है कि शुभेंदु अधिकारी से संवाद स्थापित कर पार्टी उन्हें मनाने में कामयाब होगी.

शुभेंदु अधिकारी ममता कैबिनेट में परिवहन मंत्री थे. आज पूर्बा मेदिनीपुर जिले के महिषादल में शुभेंदु अधिकारी की एक बैठक है. इस बैठक में शुभेंदु अधिकारी कुछ बड़ा ऐलान कर सकते हैं.

तृणमूल कांग्रेस में उठापटक से बीजेपी खेमे की बांछें खिली हुई हैं. शुभेंदु अधिकारी के इस्तीफा देने से पहले टीएमसी का एक विधायक बीजेपी में शामिल हो चुका है. बीजेपी नेताओं ने कहा है कि वे शुभेंदु अधिकारी से संपर्क में हैं, लेकिन उनके बीजेपी में शामिल होने को लेकर अबतक कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है. बीजेपी नेताओं के अनुसार शुभेंदु अधिकारी के कई बीजेपी नेताओं से अच्छे संबंध हैं, लेकिन बीजेपी में उनके शामिल होने को लेकर कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है. 

देखें- आजतक LIVE TV

हालांकि बीजेपी नेताओं का मानना है कि शुभेंदु अधिकारी के पास अब कुछ ही विकल्प है और वे आखिरकार बीजेपी में आएंगे. बीजेपी के नेता ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि कुछ दिन में तस्वीर साफ हो जाएगी. इस नेता ने कहा कि मंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद अधिकारी के लिए टीएमसी में बने रहना मुश्किल हो जाएगा. इसलिए अब उनके पास विकल्प बचता है कि या तो वे नई पार्टी बनाएं, या बीजेपी में शामिल हो जाएं, या फिर कांग्रेस में. 

इस नेता ने कहा कि शुभेंदु अधिकारी कांग्रेस में शामिल होंगे, इसकी संभावना कम है क्योंकि कांग्रेस बंगाल में कमजोर है, इसलिए उनके पास एक मात्र विकल्प है कि वो बीजेपी में आ जाएं, ये दोनों के लिए ही अच्छा होगा.

इधर, टीएमसी ने भी शुभेंदु अधिकारी को मनाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं. इसका जिम्मा पार्टी ने टीएमसी सांसद सौगात रॉय और सुदीप बंदोपाध्याय को दिया है. सौगात रॉय ने कहा है कि बातचीत के दरवाजे अभी भी खुले हैं. उनके साथ बातचीत होनी चाहिए. 

बता दें कि सौगात रॉय और शुभेंदु अधिकारी के बीच दो दौर की वार्ता पहले भी हो चुकी थी, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला. इधर 7 दिसंबर को सीएम ममता बनर्जी पूर्बा मेदिनीपुर में रैली करने वाली हैं.  
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें