scorecardresearch
 

गृह जनपद में ना लगे अधिकारियों की ड्यूटी, चुनावों के लिए EC की एडवाइजरी जारी

इस साल देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होना है. चुनाव आयोग की तैयारियां जारी हैं और इनके लिए कुछ एडवाइजरी को जारी किया गया है.

इस साल कई राज्यों में होने हैं चुनाव (पीटीआई) इस साल कई राज्यों में होने हैं चुनाव (पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगाल समेत पांच राज्यों में इस साल चुनाव
  • चुनाव आयोग ने जारी की एडवाइजरी

साल 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए चुनाव आयोग की तैयारियां जारी हैं. सोमवार को चुनाव आयोग ने असम, केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और पुडूचेरी में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है. 

अपनी एडवाइजरी में चुनाव आयोग ने कहा है कि जिन अधिकारियों पर पिछले चुनावों में लापरवाही के लिए कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं या जिनके मामलों में सुनवाई जारी है, उन्हें इस बार ड्यूटी पर न लगाया जाए ताकि चुनाव बिना किसी व्यवधान के सुचारू ढंग से संपन्न हो सके.

साथ ही आयोग ने यह भी निर्देश दिये कि मतदान कराने की सीधी प्रक्रिया के लिए किसी भी अधिकारी को उनके गृह जनपद में तैनात न किया जाए. 

आपको बता दें कि पिछले महीने जारी की गई एडवाइजरी में आयोग ने निर्देश दिया था कि छह महीने में सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को चुनाव ड्यूटी में न लगाया जाए. 

देखें: आजतक LIVE TV


गौरतलब है कि पांचों राज्यों में इस साल अप्रैल से जून के बीच विधानसभा चुनाव होने हैं. क्योंकि उनका कार्यकाल इसी अवधि में पूरा होगा. इन सभी राज्यों के लिए एक ही साझा चुनाव कार्यक्रम घोषित होगा, यानी मतदान के चरण तो अलग-अलग होंगे लेकिन मतगणना एक साथ ही होगी.

कुछ वक्त पहले ही चुनाव आयोग की टीम ने चुनावी राज्यों का दौरा किया था, जहां तैयारियों का जायजा लिया गया. बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव पर इस बार हर किसी की नज़रें हैं, जहां बीजेपी और टीएमसी के बीच जंग है. कुछ दिनों पहले बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात कर बंगाल में अभी से ही आचार संहिता लगाने की अपील की थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें