scorecardresearch
 

बंगाल में ममता बनर्जी की जीत ने दिखाया, देश में लोकतंत्र अमर है- संजय राउत

संजय राउत ने कहा कि एक अकेली शेरनी लड़ती रही. लगातार उन पर दबाव डाला गया. उनके नेताओं को तोड़ा गया. केंद्रीय एजेंसियों का दबाव डाला गया.

शिवसेना सांसद संजय राउत (फाइल फोटोः पीटीआई) शिवसेना सांसद संजय राउत (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कहा- जनता ने बिना किसी दबाव में आए किया मतदान
  • ममता ने साबित किया कोई दादागिरी नहीं कर सकता

बंगाल के चुनाव में ममता बनर्जी ने जीत की हैट्रिक लगाई है. ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) 200 से अधिक सीटें जीतकर बंगाल में लगातार तीसरी दफे सरकार बनाने जा रही है. मतगणना के रुझानों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए शिवसेना के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि बंगाल की जनता ने बिना किसी दबाव में आए मतदान किया और बंगाल की अस्मिता की रक्षा किया.

उन्होंने कहा कि बंगाल के चुनाव नतीजे बताते हैं कि देश मे लोकतंत्र अमर है और अलग प्रकाश पैदा करेगा. संजय राउत ने कहा कि एक अकेली शेरनी लड़ती रहीं. लगातार उन पर दबाव डाला गया. उनके नेताओं को तोड़ा गया. केंद्रीय एजेंसियों का दबाव डाला गया. उन्होंने कहा कि चुनाव में हार-जीत होती है. बीजेपी ने मेहनत जरूर की, पूरी यंत्रणा लगा दी लेकिन दीदी भारी पड़ गईं.

शिवसेना सांसद ने कहा कि बीजेपी की प्रतिष्ठा की दांव पर लगी थी. पीएम मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा कोरोना प्रोटोकॉल तोड़कर रैलियां कर रहे थे. हम कोरोना से लड़ रहे थे और बीजेपी ममता से लड़ रही थी. ममता ने साबित किया है कि दिल्ली से आकर कोई भी राज्य में दादागिरी नहीं कर सकता, चाहे बंगाल हो या महाराष्ट्र. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अथाह पैसे खर्च किए. उन्होंने कहा कि चुनाव में व्यस्त रहना देश के लिए ठीक नहीं.

संजय राउत ने कहा कि हम ममता दीदी के साथ हैं. हमारी ममता बनर्जी से बात हुई है. उद्धव ठाकरे ने भी ममता की जीत पर संतोष जताया है. उन्होंने कहा कि असम को छोड़ दें तो बीजेपी के हाथ क्या लगा. शिवसेना सांसद ने कहा कि ममता बनर्जी की इस विजय से देश के विरोधी दलों के नेताओं को नई ऊर्जा मिलेगी. ममता बनर्जी की इस जीत ने दिखाया है कि देश में बीजेपी को हराना मुश्किल नहीं है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें