scorecardresearch
 

असम में बोले PM मोदी- कांग्रेस का महाझूठ सिर्फ घुसपैठ की गारंटी देता है

असम के बिहपुरिया में बुधवार को पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने यहां अपने शासन में सिर्फ कुर्सी बचाने का काम किया, आम लोगों के लिए कोई काम नहीं किया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो: PTI) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असम के बिहपुरिया में पीएम मोदी की रैली
  • सत्ता के लिए झूठ बोलती है कांग्रेस: PM मोदी

असम में पहले चरण के मतदान से पहले आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां चुनावी सभा को संबोधित किया. असम के बिहपुरिया में बुधवार को पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने यहां अपने शासन में सिर्फ कुर्सी बचाने का काम किया, आम लोगों के लिए कोई काम नहीं किया था.

पीएम मोदी बोले कि असम में बीजेपी की सरकार ने जमीन से जुड़े कानून में बदलाव किया और जमीनों को अवैध कब्जे से मुक्त कराया. पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी की सरकार ने असम की कला और संस्कृति को संजोने का काम किया. 

यहां रैली में पीएम मोदी बोले कि कांजीरंगा को आज कांग्रेस के कब्जाधारियों से मुक्त कर दिया गया है. असम को अब अवैध कब्जे, अराजकता से मुक्ति मिल गई है और विकास के सेतु मजबूत हो रहे हैं. 

'सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर सकती है कांग्रेस'
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस का हाथ ऐसे लोगों के साथ है, जो असम की पहचान को तबाह करने चाहते हैं. मैं आपको जगाने आया हूं, असम के लोग संस्कृति को बर्बाद नहीं होने देंगे. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस वोट के लिए कुछ भी कर सकती है, किसी का भी साथ ले सकती है. 

पीएम मोदी ने कहा कि असम में कांग्रेस वामपंथियों के साथ खड़ी है और केरल में जाकर इन्हें गाली दे रहे हैं. कांग्रेस का महाझूठ घुसपैठ की गारंटी देता है. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने असम की चाय को भी दुनिया में बर्बाद करने का काम किया है. हमारी सरकार ने टी-वर्कर्स की मजदूरी को दोगुना किया है. 

असम में पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र ने इस बार बजट में सिर्फ 1000 करोड़ रुपये चाय बागानों के लिए जारी किए हैं. पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी ने जो संकल्प पत्र जारी किया है, उसमें असम की संस्कृति को बढ़ाने के साथ-साथ राज्य को आत्मनिर्भर बनाने का वादा किया गया है. 

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि असम में गरीबों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 5.5 लाख से ज्यादा आवास स्वीकृत किए गए हैं. इनमें से अनेक लाभार्थियों को अपने पक्के घर मिल चुके हैं, जिनको अभी पक्का घर नहीं मिला है, वो आश्वस्त रहें, उन्हें भी पक्का घर जरूर मिलेगा.

आपको बता दें कि असम में इस बार तीन चरण में चुनाव होना है, पहले चरण के लिए 27 मार्च को वोट डाले जाने हैं. पहले चरण में कुल 47 सीटों पर मतदान होना है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×