scorecardresearch
 

असम में बरसे अमित शाह, बोले- राहुल बाबा बताएं, अजमल के साथ मिलकर कैसे घुसपैठ रोकेगी कांग्रेस?

अमित शाह ने यहां असम की रैली में कहा कि पांच साल में बीजेपी ने असम को आतंकवाद और भ्रष्टाचार से मुक्त करने का काम किया है.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो: PTI) केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असम के मजूली में अमित शाह की रैली
  • राहुल बताएं कैसे रोकेंगे घुसपैठ: शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को असम के मजूली में चुनावी सभा को संबोधित किया. अमित शाह ने रैली में कहा कि पांच साल में बीजेपी ने असम को आतंकवाद और भ्रष्टाचार से मुक्त करने का काम किया है. अमित शाह ने रैली में कहा कि राहुल बाबा समेत पूरा विपक्ष बीजेपी की सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा पाया है.

गृह मंत्री ने कहा कि विश्व भर के पर्यटक काजीरंगा आ सकते हैं, मगर आते कैसे क्योंकि वहां भी बदरुद्दीन अजमल के घुसपैठिए कब्जा जमाकर बैठे थे. लेकिन भाजपा की सरकार में अभियान शुरू हुआ और 2 दिन के अंदर सारे घुसपैठिए काजीरंगा से बाहर कर दिए गए.

अमित शाह ने यहां जनसभा में कहा कि 15 साल तक यहां कांग्रेस की सरकार रही, अलग-अलग प्रकार के आतंकवादी संगठन गोलियां चलाते थे, लोगों को और हमारे security के जवानों को मार देते थे. लेकिन इन 5 वर्षों में 2,000 आतंकवादियों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में प्रवेश किया है और असम आतंकवाद मुक्त हो गया है.


गृह मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि कांग्रेस सबको झगड़ाकर अपनी राजनीति करती है. ये बदरुद्दीन अजमल के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे तो हम घुसपैठ नहीं रोक पाएंगे. घुसपैठ रोकने का काम मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा ही कर सकती है, असम को आतंकवाद से मुक्त रखने का काम मोदी जी ही कर सकते हैं.

आपको बता दें कि अमित शाह लगातार असम का दौरा कर रहे हैं. सोमवार को भी असम में अमित शाह की कुल तीन सभाएं हैं. आज ही के दिन बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा भी असम में हैं. जेपी नड्डा सोमवार को असम के लिए बीजेपी का मेनिफेस्टो जारी करेंगे. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें