scorecardresearch
 

जानिए अपनी सफलता पर क्या कहते हैं UPSC टॉपर्स

UPSC ने सिविल सर्विसेज परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है. इस बार दिल्ली की लड़की टीना ने टॉप किया है और कश्मीर के अतहर को दूसरा रैंक मिला है.

X
UPSC 2015 Topper: Tina Dabi UPSC 2015 Topper: Tina Dabi

पिछले साल की तरह इस साल भी एक महिला उम्मीदवार ने सिविल सर्विस परीक्षा में टॉप किया है. ग्रेटर नोएडा की रहने वाली टीना डाबी ने अपने पहले ही प्रयास में इस बड़ी सफलता को हासिल किया है.

जानिए UPSC टॉपर टीना डाबी के बारे में:
22 साल की टीना ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी श्रीराम कॉलेज से पॉलटिकल साइंस में ग्रेजुएशन किया है. वह डीयू के 2011-2012 के सेशन की पॉलिटिकल साइंस की टॉपर भी रही हैं और इसी से जाहिर होता है कि इस विषय में उनकी कितनी गहरी दिलचस्पी है.
अपनी इस सफलता पर टीना का कहना है कि अनुभवों से सीखने की प्रक्रिया अभी शुरू हुई है और वह आगे बढ़ने के लिए काफी एक्साइटेड हैं. उन्होंने 11वीं क्लास से ही सिविल सर्व‍िसेज की तैयारी शुरू कर दी थी. वह बहुत मेहनत कर रही थीं लेकिन कभी सोचा नहीं था कि टॉप करेंगी.
दूसरों को भी सफलता पाने के लिए प्रेरित करती हुई डाबी ने कहा कि कठिन मेहनत से हर सफलता हासिल की जा सकती है.

UPSC के दूसरे टॉपर अतहर के लिए यह सपने के सच होने जैसा है:
वहीं, दक्षिणी कश्मीर अनंतनाग के रहने वाले 23 साल के अतहर ने अपने दूसरे प्रयास में यह सफलता हासिल की है. इससे पहले 2014 में अपने पहले प्रयास में उन्हें इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS) में सफलता मिली थी. वह फिलहाल इंडियन रेलवे इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट, लखनऊ से ट्रेनिंग कर रहे हैं.

अपनी सफलता पर खुशी जाहिर करते हुए अतहर ने बताया, 'यह सपने के सच होने जैसा है. मैं लोगों की बेहतरी के लिए काम करूंगा. मैं चाहूंगा कि मुझे अपने राज्य के लोगों के लिए काम करने का मौका मिले'

तीसरा स्थान हासिल करने वाले जसमीत अपनी सफलता का श्रेय देते हैं पेरेंट्स को:
वहीं जसमीत के पापा इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चरल रिसर्च से जुड़े हैं. जसमीत अपनी सफलता का पूरा क्रेडिट अपने पेरेंट्स और टीचर्स को देते हैं. उन्होंने कहा, 'परिवार, दोस्तों और अपने टीचर मुकुल पाठक की वजह से ही मैं इस मुकाम को हासिल कर पाया हूं.'
बता दें कि 2014 में जसमीत का सिलेक्शन इंडियन रेवेन्यू सर्विसेज (IRS) के लिए हो गया था. वह फरीदाबाद में नेशनल एकेडमी ऑफ कस्टम्स, एक्साइज और नार्कोटिक्स में इन दिनों प्रशिक्षण ले रहे थे. यूपीएससी में यह उनका चौथा प्रयास था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें