scorecardresearch
 

AIPMT नकल मामला: पुलिस ने SIT बनाई, दिल्ली की दुकान पर मारा छापा

रोहतक में ऑल इंडिया प्री-मेडिकल और प्री-डेंटल टेस्ट एग्जाम में तीन मई को कुछ कैंडिडेट्स को नकल कराने के मामले की जांच के लिए हरियाणा पुलिस ने स्पेशल टास्क फोर्स (एसआईटी) का गठन किया है.

Students Students

रोहतक में ल इंडिया प्री-मेडिकल और प्री-डेंटल टेस्ट एंट्रेंस एग्जाम में तीन मई 2015 को 'आंसर-की' लीक और कुछ कैंडिडेट्स को नकल कराने के मामले की जांच के लिए हरियाणा पुलिस ने स्पेशल टास्क फोर्स (एसआईटी) का गठन किया है. इसके साथ ही पुलिस ने दिल्ली की उस दुकान पर छापे भी मारा है जहां से उपकरण लगे अंडरगारमेंट्स और स्पाई कैमरे खरीदे गए थे.

पुलिस ने सीबीएसई को भी इस पूरे मामले की जानकारी दे दी है. हालांकि सूत्रों के अनुसार सीबीएसई का कहना है कि एआईपीएमटी का पर्चा लीक नहीं हुआ था. सूत्रों की मानें तो बोर्ड को यह मामला नकल का नजर आ रहा है. अभी मामले की जांच चल रही है. बोर्ड ने सभी 17 परीक्षा केंद्रों से रिपोर्ट मांगी है. जानिए पेपर लीक की पूरी हकीकत

हरियाणा पुलिस की एक टीम ने दिल्ली के करोलबाग की उस दुकान पर भी छापा मारा जहां से आरोपियों ने एग्जाम में नकल के लिए इस्तेमाल होने वाली स्पाई कैमरा लगे हुए अंडरगारमेंट्स खरीदे थे. पुलिस ने फिलहाल दुकानदार से पूछताछ कर रही है. पुलिस के मुताबिक इस दुकान पर मिलने वाले स्पाई कैमरे की कीमत 800 से लेकर 50,000 रुपये तक है. AIPMT रिजल्ट 5 जून को होगा आउट

रोहतक के पुलिस अधीक्षक शशांक आनंद ने बताया कि इस मामले में एसआईटी का गठन किया गया है. इसका नेतृत्व रोहतक पुलिस उपाधीक्षक अमित भाटिया करेंगे और इसमें (रोहतक पुलिस की) सीआईए-2 यूनिट के प्रभारी इंस्पेक्टर विजय और रोहतक एसटीएफ के प्रभारी सब इंस्पेक्टर राकेश होंगे.

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मैंने सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक से बात की और जांच को तेज करने के लिए बोर्ड का सहयोग मांगा है. उत्तर तालिका (आंसर-की) की भी जांच की जा रही है. रोहतक रेंज के आईजी श्रीकांत जाधव ने कहा कि मामले के प्रमुख आरोपी रूप सिंह डांगी को गिरफ्तार करने की कोशिश जा रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें