scorecardresearch
 

UP Board Toppers: नियमित रूप से पढ़ें अखबार- जाएं लाइब्रेरी, यूपी बोर्ड टॉपर्स को CM योगी ने दी नसीहत

UP Board Inter 2022 toppers Career tips by CM Yogi Adityanath: सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज यूपी बोर्ड इंटर टॉपर्स से बातचीत की और उनके एक्‍सपीरिएंस शेयर किए. उन्‍होंने बच्‍चों को करियर के टिप्‍स भी दिए.

X
up cm meets up board inter topper up cm meets up board inter topper
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंटर का रिजल्ट 18 जून को हुआ था जारी
  • 85.33% रहा था यूपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट

UP Board Inter 12th Toppers: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) ने आज, 22 जून को लखनऊ में 'मेधावी विद्यार्थी संवाद 2022' का आयोजन किया है. इस समारोह में सीएम योगी ने लखनऊ के यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट के मेधावी टॉप-10 छात्रों से मुलाकात की. इस दौरान मुख्‍यमंत्री ने छात्रों को नियमित अखबार पढ़ने और लाइब्रेरी जानी की सलाह दी.

मुख्‍यमंत्री ने सभी छात्रों से उनके भविष्‍य की योजना पूछी. छात्र-छात्राओं को अभ्‍यूदय कोचिंग की क्‍लास लेने के लिए भी प्रोत्‍साहित किया. लखनऊ में आयोजित 'मेधावी विद्यार्थी संवाद 2022' के दौरान यूपी बोर्ड इंटर रिजल्ट 2022 में टॉप-10 छात्र शामिल हुए, सभी ने सीएम को अपना नाम, स्कूल का नाम और पास प्रतिशत बताए. सीएम योगी ने भी छात्रों से बात की और इंटर में विषय पूछे. इसके अलावा इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल्स से भी बात की. समारोह में शामिल इंटर के टॉप-10 में छात्रों में ज्यादातर (8 बच्चे) फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय के थे. सीएम योगी ने छात्रों से भविष्य में क्या करना चाहते हैं और तैयारी को लेकर सवाल किए.

 

सीएम ने पूछा- तैयारी के लिए क्या अलग किया था?

  • फर्स्ट ईयर से देखा जाता है कि कौन सा बच्चा पढ़ाई में कमजोर है और कौन अच्छा कर रहा है.
  • दोनों तरह के छात्रों के लिए अलग-अलग स्पेशल क्लासेस आयोजित की जाती हैं.
  • छात्रों का पेपर वाइज टेस्ट लेते हैं और टीचर्स उन बच्चों को वीक पॉइंट को कवर करते हैं.
  • उत्तर लिखते समय विशेष शब्दों का चयन करें.
  • अच्छा लिखने पर जोर देते हैं.
  • छात्र एक-दूसरे के जवाब पढ़ते हैं.

सीएम योगी ने छात्रों को दिए ये टिप्स

  • छात्र प्राइवेट या स्कूल की लाइब्रेरी में जाएं.
  • नियमित रूप से अखबार पढ़ें.
  • न्यूज पेपर के संपादकीय पेज को जरूर पढ़ें.
  • ग्रेजुएशन और प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अखबार पढ़ना बहुत जरूरी है.
  • अभ्युदय योजना (Abhyudaya Yojana 2022) का लाभ उठाएं, वर्चुअल या ऑफलाइन क्लासेस ले सकते हैं.
  • यूपी सरकार ने अभ्युदय योजना के तहत आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, नीट जैसी प्रतियोगिताओं के लिए छात्रों को निशुल्क कोचिंग दी जाती है. योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें-

 

सीएम योगी छात्रों को कहा, 'परिश्रम का कोई विकल्प नहीं, जितना परिश्रम करेंगे, परिणाम उतना ही अच्छा आएगा. परिश्रम सकारात्मक व सार्थक दिशा में होना चाहिए.'

 

इसके अलावा उन्होंने कहा, 'बच्चे नियमित रूप से लाइब्रेरी जाएं व अखबार अवश्य पढ़ें. अखबार के सम्पादकीय पृष्ठ पर देश-दुनिया से संबंधित बहुत सारी जानकारी होती है. समसामयिक घटनाओं व ज्वलंत मुद्दों पर देश के प्रतिष्ठित चिंतकों, लेखकों, विद्वानों व राजनेताओं के आलेख बहुत उपयोगी होते हैं.' 'सफल वह होता है जो छोटी-छोटी गलतियों को सुधार कर आगे बढ़ता जाता है. विफल वही होता है जो जानने के बाद भी गलतियों की तरफ ध्यान नहीं देता है.'

 

ये भी पढ़ें:

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें