scorecardresearch
 

World Blood Donor Day 2022: कौन डोनेट कर सकता है ब्लड, किस ग्रुप वाले को चढ़ाया जा सकता है कौन सा खून?

World Blood Donor Day 2022: डॉक्टर्स के अनुसार, कोई भी स्वस्थ अडल्ट रक्तदान कर सकता है. पुरुष हर तीन महीने में एक बार सुरक्षित रूप से रक्त दान कर सकते हैं, जबकि महिलाएं हर चार महीने में दान कर सकती हैं.

X
World Blood Donor Day 2022 World Blood Donor Day 2022
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोई भी स्वस्थ अडल्ट रक्तदान कर सकता है
  • न्यूनतम 18 साल की उम्र वाले कर सकते हैं डोनेट

World Blood Donor Day 2022, Histrory and Significance of 14th June: वर्ल्ड ब्लड डोनर डे हर साल 14 जून को मनाया जाता है. यह लोगों को ब्लड डोनेशन के महत्व, इसके प्रति जागरुकता फैलाने के लिए सेलिब्रेट किया जाता है. साथ ही, यह दिन स्वैच्छिक और अवैतनिक ब्लड डोनर के योगदान का सम्मान करने के लिए भी मनाया जाता है. खून किसी भी शरीर के लिए काफी अहम है. बीमार पड़े लोगों को भी कई बार खून की जरूरत होती है, जहां लोग ब्लड डोनेट करके उनकी जान बचाते हैं. वर्ल्ड ब्लड डोन डे के दिन लोग खुद से अस्पताल या फिर ब्लड डोनेशन कैंपों में जाकर ब्लड डोनेट करते हैं.

वर्ल्ड ब्लड डोनर डे का क्या है इतिहास?
दुनियाभर में कई चिकित्सा प्रक्रियाओं के लिए खून आवश्यक है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने साल 2004 में पहली बार वर्ल्ड ब्लड डोनर डे मनाया था, ताकि सभी देशों को रक्त दाताओं के निस्वार्थ प्रयास को स्वीकार करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके, जिससे बीमार लोगों को बचाने के लिए खून की जरूरत पूरी की जा सके. यह दिन नोबेल पुरस्कार से सम्मानित कार्ल लैंडस्टीनर की जयंती का प्रतीक है. 14 जून, साल 1868 को जन्मे कार्ल को एबीओ ब्लड ग्रुप सिस्टम की खोज करके स्वास्थ्य विज्ञान में उनके योगदान के लिए पुरस्कार मिला था.

वर्ल्ड ब्लड डोनर डे 2022 की क्या है थीम?
वर्ल्ड ब्लड डोनर डे की थीम हर साल डब्ल्यूएचओ द्वारा तय की जाती है. इस साल का नारा 'रक्तदान एक एकजुटता का कार्य है.' यह विषय उन लोगों पर केंद्रित है जो जीवन बचाने और समुदायों के भीतर एकजुटता बढ़ाने के लिए स्वेच्छा से रक्तदान करते हैं. लोगों से अपील की जाती है कि ज्यादा से ज्यादा लोग ब्लड दान करें ताकि अस्पतालों में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे लोगों को नई जिंदगी मिल सके.

जानिए कौन किसे दे सकता है खून?
सभी खून हर किसी को नहीं चढ़ाया जा सकता है. यदि किसी का ए + ब्लड ग्रुप है तो ऐसा खून ए+ और एबी+ को चढ़ाया जा सकता है. ए- ब्लड ग्रुप वालों का खून एबी-, ए-, ए+ को चढ़ाया जा सकता है. वहीं, यदि बी+ वाला शख्स बी+ और एबी + को ब्लड दे सकता है. यदि किसी का ब्लड ग्रुप ओ + है तो वह अपना ब्लड ए +, बी +, एबी +, ओ + को दे सकता है. इसके साथ ही एबी + ब्लड ग्रुप वाला शख्स एबी + को खून दे सकता है.

कौन डोनेट कर सकता है ब्लड?
जब भी लोग ब्लड डोनेट करने के बारे में सोचते हैं तो उनके मन में एक सवाल आता है कि क्या वे खून डोनेट कर सकते हैं? क्या इससे कोई दिक्कत तो नहीं होगी. डॉक्टर्स के अनुसार, कोई भी स्वस्थ वयस्क, पुरुष और महिला दोनों, रक्तदान कर सकते हैं. पुरुष हर तीन महीने में एक बार सुरक्षित रूप से रक्त दान कर सकते हैं जबकि महिलाएं हर चार महीने में दान कर सकती हैं. वहीं, ब्लड डोनेट करने वाले की न्यूनतम आयु 18 साल होनी चाहिए, जबकि 65 साल की उम्र वाले लोग खून डोनेट कर सकते हैं. वहीं, वजन भी 45 किलो से कम नहीं होना चाहिए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें