scorecardresearch
 

इतिहास

Police Memorial Day 2020

पुलिस स्मृति दिवस: 21 अक्टूबर की कहानी, जब चीन के सामने अड़ गई थी पुलिस

21 अक्टूबर 2020

साल 1959 में चीन से सटी भारतीय सीमा की रक्षा में बलिदान देने वाले दस पुलिसकर्मियों की याद में ये खास दिन मनाना शुरू किया गया था. जानिए पुलिस स्मृति दिवस मनाने की पूरी कहानी.

Gandhi Jayanti 2020

गांधी जयंती: जानिए खुद अपने जन्मदिन पर बापू क्या करते थे

01 अक्टूबर 2020

आज से 102 साल पहले, जब साल 1918 में गांधीजी ने अपना जन्मदिन मनाने वालों से कहा था 'मेरी मृत्यु के बाद मेरी कसौटी होगी कि मैं जन्मदिन मनाने लायक हूं कि नहीं.'

 भगत सिंह

कौन थे वो शख्स, जिन्हें फांसी से पहले भगत सिंह ने कहा था 'भाग्यशाली'

28 सितंबर 2020

भगत सिंह जब जेल में थे, उस समय काफी किताबें पढ़ा करते थे. किताबों को लेकर उनकी दीवानगी हैरान करने वाली थी. वह अपनी जिंदगी के आखिरी समय तक नई-नई किताबें पढ़ते रहे.

जसवंत सिंहः बीजेपी का वो संस्थापक जो अंतिम पारी में हो गया बागी

27 सितंबर 2020

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन हो गया है. 3 जनवरी 1938 को बाड़मेर जिले के जसोल गांव में जन्मे जसवंत सिंह बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक थे.

आज खत्म हुआ था 65 का युद्ध, भारत ने 22 दिन में चटाई थी पाक को धूल

23 सितंबर 2020

55 साल पहले भारत-पाकिस्तान के बीच एक ऐसा युद्ध हुआ था जिसकी बहुत ज्यादा चर्चा नहीं होती. इस युद्ध में दोनों ही तरफ के सैनिक मरे. दोनों ही देशों को भारी क्षत‍ि उठानी पड़ी. जानिए- क्यों आज तक यह तय नहीं हो सका कि इस युद्ध में कौन जीता था. इस 22 दिन के युद्ध में आख‍िर क्या हुआ था.

विश्व ओजोन दिवस 2020

Ozone Day: क्या लॉकडाउन के कारण भरने लगा था ओजोन का छेद?

16 सितंबर 2020

पृथ्वी की सतह से करीब 30 किलोमीटर की ऊंचाई पर ओजोन गैस की एक पतली परत पाई जाती है. इसे ही ओजोन लेयर या ओजोन परत कहते हैं. ओजोन की ये परत सूर्य से आने वाली अल्ट्रावॉयलेट रेडिएशन को सोख लेती है. ये रेडिएशन अगर धरती तक बिना किसी परत के सीधी पहुंच जाए तो ये मनुष्य के साथ पेड़-पौधों और जानवरों के लिए भी बेहद खतरनाक को सकती है.

  पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह

नहीं रहे रघुवंश बाबू, मैथ्स के प्रोफेसर से राजनीतिज्ञ तक, ऐसा रहा सफर

13 सितंबर 2020

लालू के करीबी रघुवंश प्रसाद का 74 की उम्र में दिल्ली एम्स में निधन हो गया है. 3 दिन पहले ही उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दिया था, पर लालू ने स्वीकार नहीं किया था. जानिए उनके बारे में खास बातें.

Neeraja Bhanot

कौन थीं नीरजा भनोट? जिनकी हिम्मत से बची थी 360 लोगों की जान

07 सितंबर 2020

7 सितंबर 1964 को चंडीगढ़ में जन्मीं नीरजा भनोट का बचपन भी आम लड़कियों की तरह ही बीता था. पत्रकार पिता की लाडली नीरजा खूबसूरत और चुलबुली थीं. आज उनकी पुण्यत‍िथ‍ि पर आइए जानते हैं इस बहादुर लड़की के बारे में.