scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ः मुठभेड़ में मारा गया कुख्यात नक्सली

छत्तीसगढ़ में पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान एक कुख्यात नक्सली को मार गिराया. पुलिस के मुताबिक मृतक कई घटनाओं में शामिल था. मौका-ए-वारदात से हथियार भी बरामद हुए हैं.

पुलिस ने मारे गए नक्सली के पास से हथियार भी बरामद किए हैं पुलिस ने मारे गए नक्सली के पास से हथियार भी बरामद किए हैं

छत्तीसगढ़ राज्य के नक्सल प्रभावित कोंडागांव जिले में पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान एक कुख्यात नक्सली को मार गिराया. पुलिस के मुताबिक मृतक कई घटनाओं में शामिल था.

कोंडागांव जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि कोंडागांव पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत हीरामंडल गांव के जंगल में नक्सली छिपे हुए हैं. और वे किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं.

जिला पुलिस मुख्यालय पर सूचना मिलते ही पुलिस बल हीरामंडल की तरफ रवाना किया गया. जब पुलिस सर्च ऑपरेशन के तहत हीरामंडल और मेडपाल गांव के बीच पहुंची तो वहां जंगल में छिपे नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी.

पुलिस ने भी पोजिशन लेकर नक्सलियों की गोलीबारी का जवाब दिया. अधिकारियों के मुताबिक दोनों तरफ से लगभग आधे घंटे तक गोलीबारी होती रही. लेकिन पुलिस बल की संख्या ज्यादा होने की वजह से नक्सली वहां से फरार हो गए.

मुठभेड़ के बाद पुलिस ने जब घटनास्थल की तलाशी ली, तो वहां एक नक्सली का शव, दो भरमार बंदूकें और अन्य सामान बरामद किया गया. मारे गए नक्सली की पहचान बलदेव उर्फ जनेश के रूप में की गई. बलदेव पहले मडगांव लोकल आर्गेनाइजेशन स्क्वाड का सदस्य भी था.

फिलहाल वह मिलट्री कंपनी नंबर छह का सदस्य था. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बलदेव कई नक्सली घटनाओं में शामिल रहा था. पुलिस उसकी काफी समय से तलाश कर रही थी. पुलिस ने मृतक का शव कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें