scorecardresearch
 

कठुआ केस: अब्दुल्ला बोले- नेताओं ने आरोपियों का बचाव किया, लीगल सिस्टम को चैलेंज किया

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने कहा है कि जिन नेताओं ने आरोपियों का बचाव किया, पीड़ितों पर ही सवाल उठाएं और कानून व्यवस्था को चुनौती दी उनके लिए आलोचना के कोई शब्द काफी नही हैं.

कठुआ कांड के आरोपी दोषी करार. (प्रतीकात्मक तस्वीर) कठुआ कांड के आरोपी दोषी करार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में हुई रेप और मर्डर की घटना पर कोर्ट का फैसला आ गया है. कोर्ट ने 8 साल की बच्ची के साथ रेप करने वाले कुल 7 में से 6 आरोपियों को दोषी करार दिया है. कोर्ट के फैसले का जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने स्वागत किया है.

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने कहा है कि जिन नेताओं ने आरोपियों का बचाव किया, पीड़ितों पर ही सवाल उठाएं और कानून व्यवस्था को चुनौती दी उनके लिए आलोचना के कोई शब्द काफी नही हैं.

उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर लिखा, 'दोषियों को कानून के तहत कठोरत्तम सजा मिलनी चाहिए, और उन नेताओं ने जिन्होंने आरोपियों का बचाव किया, पीड़ितों को ही कठघरे में खड़ा किया, और लीगल सिस्टम को चुनौती दी उनके लिए आलोचना के कोई शब्द काफी नहीं हैं."

पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने ट्विटर पर लिखा, 'हम फैसले का स्वागत करते हैं. जघन्य अपराध पर राजनीति बंद होनी चाहिए. एक 8 साल की बच्ची को नशा दिया गया, बार-बार बलात्कार किया गया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया गया. आशा है कि हमारी न्यायिक व्यवस्था में खामियों का फायदा दोषी नहीं उठा पाएंगे और उन्हें कड़ी सजा मिलेगी.

बता दें कि पिछले साल 10 जनवरी को जम्मू-कश्मीर के कठुआ में  8 साल की बच्ची को अगवा कर गांव के एक मंदिर में बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. उसे 4 दिन तक बेहोश रखा गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई. इस घटना के सामने आने पर देश भर में विरोध प्रदर्शन हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें