scorecardresearch
 

दिल्ली में बदमाश बेखौफ, नंद नगरी में रंगदारी न देने पर सरेआम फायरिंग

नंद नगरी में मोबाइल की दुकान पर फायरिंग की गई. इससे पहले 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी. बदमाशों ने पैसे न देने पर गोलीबारी की.

फायरिंग की फाइल फोटो फायरिंग की फाइल फोटो

  • इससे पहले गीता कॉलोनी में हुई थी फायरिंग, इस घटना में 4 लोग घायल हो गए थे
  • बीते रविवार को नरेला में अपराधियों ने एक स्थानीय नेता की गोली मार कर हत्या कर दी
दिल्ली में बेखौफ बदमाशों ने गुरुवार को सरेआम गोलीबारी की. उत्तर पूर्वी दिल्ली के नंद नगरी में मोबाइल की दुकान पर फायरिंग की गई. इससे पहले 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी. रंगदारी न मिलने पर फायरिंग की गई. इस घटना में किसी को गोली नहीं लगी है. फायरिंग का पूरा मामला सीसीटीवी में कैद हो गया. फुटेज लेने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

बताया जा रहा है कि जैसे ही बंटी बदमाशों की रंगदारी मागंने की सूचना पुलिस स्टेशन में देने के लिए निकले वैसे ही पीछे से दो बदमाश बाइक पर आए और उन्होंने दुकान पर ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी. ये पूरी वारदात पास के सीसीटीवी में कैद हो गई.

बंटी का कहना है, 'आज तक उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं हुई. यह फोन उनके पास अचानक से आया था. बदमाश यह कह रहा था कि वह अनिल दुजाना का साथी बोल रहा है और अगर 50 लाख नहीं दिए तो गोली मार देगा.'

पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी की तस्वीरों से साफ दिख रहा है कि किस तरह से बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां चलाई है. मौके पर मौजूद दुकान के बाकी कर्मियों ने किसी तरह अपनी जान बचाई फिलहाल एहतियातन यहां पर पुलिस तैनात कर दी गई है लेकिन परिवार डरा सहमा हुआ है.

अभी हाल में दिल्ली की गीता कॉलोनी में बदमाशों ने फायरिंग कर दी थी. इसमें 4 लोग घायल हो गए. गोलीबारी की वजह का पता नहीं चल पाया. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी. उससे पहले रविवार को नरेला में एक नेता की गोली मार कर हत्या कर दी गई. मृतक बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुका था. बदमाशों ने इस घटना को थाने से महज दो सौ मीटर की दूरी पर अंजाम दिया. मृतक की पहचान वीरेंद्र मान उर्फ काले के रूप में हुई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें