scorecardresearch
 

UP: अपराधियों पर योगी सरकार की नकेल, 15 अरब से अधिक की संपत्ति जब्त, 139 अपराधी एनकाउंटर में ढेर

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में योगी सरकार (CM Yogi) ने अपराधियों (Criminals) पर नकेल कसने का सिलसिला जारी है. सूबे में पुलिस (UP Police) ने कुख्यात अपराधियों, विभिन्न प्रकार के माफियाओं व उनके गिरोह के अन्य सहयोगियों आदि के विरूद्ध अभियान चलाकर कठोर कार्यवाही की है.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो) उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • योगी सरकार में एनकाउंटर में घायल हुए 3196 अपराधी
  • गिरफ्तारी के दौरान एनकाउंटर में 139 अपराधी ढेर

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में योगी सरकार (CM Yogi) ने अपराधियों (Criminals) पर नकेल कसने का सिलसिला जारी है. सूबे में पुलिस (UP Police) ने कुख्यात अपराधियों, विभिन्न प्रकार के माफियाओं व उनके गिरोह के अन्य सहयोगियों आदि के विरूद्ध अभियान चलाकर कठोर कार्यवाही की है. योगी सरकार के चार वर्ष से अधिक के कार्यकाल में गैंगस्टर अधिनियम के तहत कुल 15 अरब 74 करोड़ रूपये से अधिक की अवैध सम्पत्तियों के जब्तीकरण  किया गया है. इसमें से सर्वाधिक कार्यवाही जनवरी 2020 से अब तक की गयी है. इस दौरान रिकॉर्ड कुल 13 अरब, 22 करोड़ रूपये से अधिक की अवैध सम्पत्ति गैगेंस्टर अधिनियम के तहत जब्त की गयी है.    

अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 13 हजार 7 सौ से अधिक अभियोग गैंगस्टर अधिनियम के तहत दर्ज किये जा चुके हैं, जिनमें 43 हजार से अधिक अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गयी है. उन्होंने बताया कि अब तक गैंगस्टर अधिनियम की धारा-14(1) के तहत 1431 प्रकरणों में 15 अरब, 74 करोड़, 5 लाख रूपये से अधिक की चल अचल अवैध सम्पत्तियोें पर श‍िकंजा कसते हुए सरकारी जमीन अवमुक्त कराने, अवैध कब्जे के ध्वस्तीकरण एवं अवैध सम्पत्ति के जब्तीकरण की कार्यवाही की जा चुकी है.

वाराणसी जोन में सबसे अधिक कार्रवाई

गैंगस्टर अधिनियम में सर्वाधिक एक्शन वाराणसी जोन में लिया गया, जहां पर कुल 420 प्रकरणों में 2 अरब, 2 करोड़, 29 लाख रूपये से अधिक, गोरखपुर जोन में 208 प्रकरणों में 2 अरब, 64 करोड़, 85 लाख रूपये से अधिक तथा बरेली जोन में 1 अरब, 84 करोड़, 82 लाख रूपये से अधिक की सम्पत्ति के जब्तीकरण की कार्यवाही की गयी.  

इसपर भी क्लिक करें- यूपी चुनाव की रणनीति, कैबिनेट विस्तार पर चर्चा, दो दिन चली BJP-RSS की बैठक में क्या-क्या हुआ?
 
अवनीश अवस्थी ने बताया कि उत्तर प्रदेश में संगठित अपराध का सफाया किया गया है, विगत 20 मार्च 2017 से 20 जून 2021 तक की अवधि में कुल 139 अपराधी गिरफ्तारी के दौरान हुई पुलिस मुठभेड़ में मारे गये हैं और 3196 घायल हुये हैं. इन कार्यवाहियों में पुलिस बल के 13 जवान अद्भुत शौर्य का प्रदर्शन करते हुये वीर गति को प्राप्त हुए तथा 1122 पुलिस कर्मी घायल भी हुए हैं.  

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि जनमानस में सुरक्षा की भावना को और अधिक सुदृढ़ करने तथा अपराधियों के अन्दर कानून के भय का माहौल पैदा करने के लिए विशेष प्रयास किये गये हैं. इसी कड़ी में प्रदेश के 25 कुख्यात माफिया अपराधियों को चिन्हित कर उनके तथा गैंग के अपराधियों व उनके सहयोगियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की गयी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें