scorecardresearch
 

रोहिंग्या और टेरर फंडिंग केस को लेकर UP ATS की 5 जिलों में छापेमारी, 4 लोग हिरासत में

रोहिंग्या और टेरर फंडिंग केस में उत्तर प्रदेश एटीएस ने आज गोरखपुर, खलीलाबाद, अलीगढ़ समेत कई जिलों में छापेमारी की है. इसके अलावा यूपी एटीएस की एक टीम महाराष्ट्र में भी छापेमारी कर रही है.

X
UP एटीएस टीम की छापेमारी (फाइल फोटो-PTI) UP एटीएस टीम की छापेमारी (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फर्जी पासपोर्ट मामले में खलीलाबाद से चार लोग हिरासत में
  • महाराष्ट्र ATS के साथ मिलकर मुंबई में भी UP ATS की छापेमारी

रोहिंग्या और टेरर फंडिंग केस में उत्तर प्रदेश एटीएस ने आज गोरखपुर, खलीलाबाद, अलीगढ़ समेत कई जिलों में छापेमारी की है. इसके अलावा यूपी एटीएस की एक टीम महाराष्ट्र में भी छापेमारी कर रही है, जिसमें उसकी मदद महाराष्ट्र एटीएस कर रही है. अभी छापेमारी से जुड़ी कोई भी आधिकारिक जानकारी एटीएस की ओर से साझा नहीं की गई है.

जानकारी के मुताबिक, रोहिंग्या और टेरर फंडिंग केस में यूपी एटीएस आज बस्ती, अलीगढ़ समेत 5 जिलों में बड़ी छापेमारी कर रही है. ख़लीलाबाद के मोती नगर में रहने वाले अब्दुल मन्नान और दिनेश गुप्ता को ATS टीम ने दबोचा है. फर्जी पासपोर्ट मामले में शहर कोतवाली के मोहल्ला मोतीनगर और मोहिउद्दीनपुर से अब्दुल मन्नान और दिनेश गुप्ता समेत चार लोगों को हिरासत मे ंलिया गया है.

इससे पहले यूपी एटीएस ने गोरखपुर में गोलघर के स्थित बलदेव प्लाजा में नईम एंड संस पर छापा मारा था. इस दौरान एटीएस ने दुकान मालिक से पूछताछ की थी. साल 2018 में भी एटीएस यहां छापा मारा चुकी है. हालांकि, आज की छापेमारी गोरखपुर में की गई है या नहीं, इसे लेकर अभी यूपी एटीएस की ओर बयान नहीं आया है.

देखें: आजतक LIVE TV

एटीएस ने 2018 में नईम एंड संस पर छापा मारा था. इस दौरान देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के आरोप में नईम के दो बेटे नसीम अहमद और नईम अरशद को हिरासत में ले लिया गया था. इस दौरान 50 लाख रुपये कैश भी बरामद किए गए थे. पहले सभी लोग इसे आयकर या सेल्स टैक्स का छापा समझ रहे थे, लेकिन बाद में एटीएस के छापेमारी की पुष्टि हुई थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें