scorecardresearch
 

मेहुल चोकसी को दिल्ली लाने के लिए डोमिनिका में मौजूद है सीबीआई की ये महिला अधिकारी

सूत्रों का कहना है, अगर वहां की अदालत ने मेहुल चोकसी को उनके देश से निर्वासित करने का आदेश दिया, तो मेहुल को सीबीआई टीम एक निजी जेट में दिल्ली लेकर आएगी. भारतीय धरती पर उतरने के बाद शारदा राउत उसे गिरफ्तार कर लेंगी.

X
डोमिनिका में मौजूद सीबीआई टीम को शारदा राउत ही लीड कर रही हैं डोमिनिका में मौजूद सीबीआई टीम को शारदा राउत ही लीड कर रही हैं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डोमिनिका में अवैध प्रवेश के आरोप में पकड़ा गया चोकसी
  • गर्लफ्रेंड के साथ लग्जरी बोट पर गया था मेहुल चोकसी
  • भारत में PNB से धोखाधड़ी कर भागा था मेहुल

पंजाब नेशनल बैंक से जुड़े धोखाधड़ी के आरोपी मेहुल चोकसी को अगर डोमिनिका की अदालत ने भारत निर्वासित किया, तो इस मामले की जांच अधिकारी शारदा राउत उसे वापस दिल्ली लेकर आएंगी. वो डोमिनिका में मौजूद 6 सदस्यीय सीबीआई टीम को हेड कर रही हैं. शारदा राउत मेहुल चोकसी को पकड़ने के लिए एक ऑपरेशन का नेतृत्व कर रही हैं.

सूत्रों का कहना है, अगर वहां की अदालत ने मेहुल चोकसी को उनके देश से निर्वासित करने का आदेश दिया, तो मेहुल को सीबीआई टीम एक निजी जेट में दिल्ली लेकर आएगी. भारतीय धरती पर उतरने के बाद शारदा राउत उसे गिरफ्तार कर लेंगी. 

आजतक/इंडिया टुडे को पता चला है कि भारतीय अधिकारियों ने डोमिनिकन अधिकारियों के साथ कई बैठकें की हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बुधवार को सुनवाई के दौरान भारत के मामले का दृढ़ता से प्रतिनिधित्व किया जाए. 

Must Read: कौन है ये मिस्ट्री गर्ल, क्या इसी गर्लफ्रेंड के चक्कर में पकड़ा गया भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी?

पता चला है कि मेहुल की आपराधिक गतिविधियों के विवरण के साथ प्रवर्तन निदेशालय का हलफनामा बुधवार शाम तक डोमिनिकन कोर्ट में दायर किया जाएगा. जिसमें बताया जाएगा कि कैसे वह एक भारतीय नागरिक है और किस आधार पर उसे भारत निर्वासित किया जाना चाहिए.

आजतक/इंडिया टुडे को सूत्रों ने बताया है कि डोमिनिकन अभियोजकों के माध्यम से ईडी और सीबीआई अदालत को यह समझाने की कोशिश करेंगे कि उनकी हिरासत में रखा गया व्यक्ति जनवरी 2018 से भारत में एक वांछित आरोपी है. उसे फौरन इंटरपोल के रेड नोटिस के आधार पर भारत वापस भेज दिया जाना चाहिए.

मेहुल चोकसी को नवंबर 2017 में एंटीगुआ की नागरिकता दी गई थी. इसके बावजूद उसने कभी भी भारतीय नागरिकता को सरेंडर करने की प्रक्रिया पूरी नहीं की और आज भी वह एक भारतीय नागरिक है.

Read it: गर्लफ्रेंड के साथ ट्रिप पर गया था मेहुल चोकसी, डोमिनिका पुलिस ने कर लिया गिरफ्तार

सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय वित्तीय जांच एजेंसी डोमिनिका में मौजूद सीबीआई अधिकारियों समेत भारतीय अधिकारियों के संपर्क में है और उनके साथ मेहुल चोकसी के खिलाफ ठोस सबूत साझा किए गए हैं.

एजेंसी के अधिकारी यह भी सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि डोमिनिका में चोकसी का मामला कानूनी पचड़ों में न फंसे, नहीं तो भारत को लंबा इंतजार करना होगा।

ये था मामला
एंटीगुआ से 23 मई को रहस्यमय तरीके से गायब हुए मेहुल चोकसी को डोमिनिकन पुलिस ने अवैध रूप से उनके देश में प्रवेश करने के आरोप में गिरफ्तार किया था. मेहुल ने आरोप लगाया कि संभवत: भारतीय और एंटिगुआ के अधिकारियों द्वारा उन्हें एंटीगुआ से अगुवा कर लिया गया. उसे पीटा गया और फिर डोमिनिका ले जाया गया. जहां साजिश के तहत पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें