scorecardresearch
 

यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामलों पर यूपी सरकार सख्त, हर थाने में महिला हेल्प डेस्क बनाने के आदेश जारी

यूपी के डीजीपी एचसी अवस्थी ने महिलाओं के लिए हर थाने में एक महिला हेल्प डेस्क बनाने के लिए आदेश जारी किया है. इसमें महिलाओं के थाने में आने पर पुलिस शिकायत लेकर अलग से महिला पुलिस एक हेल्प डेस्क बनाकर सुनवाई करेगी.

यूपी के हरेक थाने में बनेगा महिला हेल्प डेस्क (फाइल फोटो-PTI) यूपी के हरेक थाने में बनेगा महिला हेल्प डेस्क (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हर थाने में महिला हेल्प डेस्क बनाने का आदेश
  • डीजीपी ने इस संदर्भ में जारी किया नया ऑर्डर
  • इसके लिए महिला पुलिसकर्मी की होगी तैनाती

उत्तर प्रदेश से महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ आ रही हिंसा और यौन उत्पीड़न की खबरों के बीच हर थाने में महिला हेल्प डेस्क बनाने की पहल की गई है. उत्तर प्रदेश सरकार ने हर थाने में महिला हेल्प डेस्क बनाने के आदेश जारी किए हैं. 

यूपी के डीजीपी एचसी अवस्थी ने महिलाओं के लिए हर थाने में एक महिला हेल्प डेस्क बनाने के लिए आदेश जारी किया है. इसमें महिलाओं के थाने में आने पर पुलिस शिकायत लेकर अलग से महिला पुलिस एक हेल्प डेस्क बनाकर सुनवाई करेगी. साथ ही साथ महिलाओं के लिए कागज पेन और पीने के पानी की उचित व्यवस्था की जाएगी.

महिला हेल्प डेस्क पूरी तरीके से मामलों को लेकर प्रतिबद्ध होगी. उसमें रिसेप्शन का स्वभाव बहुत ही नरम और शिकायतकर्ता के प्रति सहज होगा. इसके लिए महिला पुलिस को ट्रेनिंग दी जाएगी. मेट्रो सिटी में महिला पुलिसकर्मी अंग्रेजी में बातचीत करने वाली भी रखी जाएंगी. इसके लिए 8-8 घंटे की शिफ्ट होगी और 24 घंटे महिला पुलिसकर्मी नियुक्त की जाएंगी.

देखें: आजतक LIVE TV

शिकायतकर्ता महिला का थाने में सहज बातचीत के बाद उसकी पूरी शिकायत कंप्यूटर में नोट की जाएगी. इसके बाद उसे एक रसीद या रिसिविंग दी जाएगी. अगर तत्काल कार्रवाई हो सके तो तुरंत की जाएगी नहीं तो रिसिविंग देंगे बाद में कार्रवाई की जाएगी. इस व्यवस्था को हर जिले में लागू करने के लिए डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने आदेश जारी किए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें