scorecardresearch
 

नक्सलियों ने 7 युवकों को किया अगवा, आदिवासी बोले-गांव में 34 लोग हो चुके लापता

ये मामला सुकमा जिले के जगरगुंडा थाना के कुन्देड़ इलाके का है. अपहरण का मामला सामने आने के बाद गांव में पुलिस रवाना कर दी गई है. जिले में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए नक्सलियों ने एक बार फिर से 7 युवकों का अपहरण किया है. उनकी रिहाई के लिए गए गांव के ग्रामीण भी वापस नहीं लौटे हैं. 

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने की अपहरण की पुष्टि
  • अगवा युवकों को छुड़ाने गये ग्रामीण भी लापता

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले से नक्सलियों ने 7 युवकों का अपहरण कर लिया है. मामले की पुष्टि करते हुए सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने बताया कि नक्सलियों ने 7 युवकों का अपहरण किया है. नक्सलियों ने किस कारण अपहरण किया है इसकी जांच जारी है.

दरअसल, ये मामला सुकमा जिले के जगरगुंडा थाना के कुन्देड़ इलाके का है. अपहरण का मामला सामने आने के बाद गांव में पुलिस रवाना कर दी गई है. जिले में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए नक्सलियों ने एक बार फिर से 7 युवकों का अपहरण किया है. उनकी रिहाई के लिए गए गांव के ग्रामीण भी वापस नहीं लौटे हैं. 

वहीं, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, नक्सली 34 लोगों को गांव से ले गए हैं. बताया जा रहा है कि नक्सली 18 जुलाई को युवकों का अपहरण कर गांव से ले गए थे. अगवा युवकों को छुड़ाने गए ग्रामीण भी वापस नहीं लौटे हैं. सभी युवक जगरगुंडा के कुंदेड़ गांव के बताये जा रहे हैं. इस मामले 7 युवकों के अपहरण की पुष्टि सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने कर दी है.

वहीं, इस घटना के बाद गांव पूरी तरह से खाली है. गांव में दहशत है. सर्व आदिवासी समाज ने युवकों को छोड़ने की अपील की है. वहीं, समाज की मांग है कि नक़्सली युवकों को सुरक्षित छोड़ दें. आदिवासी समाज ने कहा कि गांव में 34 लोगों गायब हो चुके हैं. वहीं, पुलिस जांच करने की बात कह रही है.

यह भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें