scorecardresearch
 

एयरबेस अटैक के हफ्तेभर बाद जम्मू में फिर दिखा फ्लाइंग ऑब्जेक्ट, पुलिस ने ड्रोन होने से किया इनकार

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन (Jammu Airforce Station) पर ड्रोन हमले (Drone Attack) के एक हफ्ते बाद एक बार फिर से एक फ्लाइंग ऑब्जेक्ट देखा गया है. हालांकि, पुलिस ने ड्रोन होने की आशंका से इनकार किया है.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर 26-27 जून की रात हुआ था ड्रोन अटैक (फाइल फोटो-PTI) जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर 26-27 जून की रात हुआ था ड्रोन अटैक (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सांबा में बीरपुर के पास दिखा ऑब्जेक्ट
  • पुलिस ने ड्रोन एक्टिविटी से इनकार किया

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन (Jammu Airforce Station) पर ड्रोन हमले (Drone Attack) के एक हफ्ते बाद एक बार फिर से एक फ्लाइंग ऑब्जेक्ट देखा गया है. ये ऑब्जेक्ट जम्मू के सांबा जिले में बीरपुर के पास देखा गया है. हालांकि, पुलिस ने ड्रोन होने की आशंका से इनकार किया है. जानकारी के मुताबिक, ये फ्लाइंग ऑब्जेक्ट (Flying Object) सांबा जिले में बीरपुर के पास शनिवार शाम करीब 8 बजकर 35 मिनट पर देखा गया.

हालांकि, जब यहां सर्च ऑपरेशन चलाया गया तो कुछ भी नहीं मिला. सांबा पुलिस ने ड्रोन (Drone) होने की आशंका से इनकार किया है.

बॉर्डर पर पाकिस्तानी गुब्बारा मिला

पठानकोट के साथ लगते भारत-पाकिस्तान सीमा पर स्थित बामियाल सेक्टर की डिंडा पोस्ट पर बीएसएफ के जवानों ने एक पाकिस्तानी गुब्बारा  बरामद किया है. बीएसएफ ने गुब्बारे को अपने कब्जे में लेकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है.

बॉर्डर से बरामद गुब्बारा

अब तक 5 बार देखे गए ड्रोन 

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर 26-27 जून की रात को ड्रोन से दो बार हमले हुए थे. हालांकि, इन हमलों में कोई बड़ा नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन ये पहली बार था जब ड्रोन से आतंकी हमला हुआ था. इसके बाद से ही जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में लगातार ड्रोन देखे जा रहे हैं. अब तक 5 बार ड्रोन देखे जा चुके हैं.

हाल ही में शुक्रवार को इंटरनेशनल बॉर्डर (International Border) पर अरनिया सेक्टर के पास ड्रोन देखा गया था. जम्मू एयरबेस अटैक के अगले दिन ही कालुचक मिलिट्री स्टेशन के पास भी ड्रोन नजर आया था. इनके अलावा कालुचक, मिरां साहिब और कुंजवानी इलाके में भी ड्रोन एक्टिविटी (Drone Activity) देखी जा चुकी है.

ये भी पढ़ें- ड्रोन अटैक को मात देने के लिए तैयार हो रहा DRDO का एंटी ड्रोन सिस्टम, ऐसे करेगा काम...

जम्मू एयरबेस अटैक (Jammu Airbase Attack) ड्रोन के इस्तेमाल की पुष्टि तो हो चुकी है, लेकिन एयरबेस से ड्रोन के सबूत नहीं मिले हैं. ऐसे में ये कयास लगाए जा रहे हैं कि हमलों के बाद ड्रोन वापस लौट गए होंगे. इस हमले की जांच नेशनल इन्वेस्टिगेटिव एजेंसी (NIA) को सौंप दी गई है. 

इस्लामाबाद में भारतीय हाईकमीशन पर भी दिखा ड्रोन

इससे पहले पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भारतीय हाईकमीशन (Indian High Commission) में भी ड्रोन देखा गया था. भारत ने इसे सुरक्षा में सेंध करार देते हुए पाकिस्तान को घेरा है. बताया जा रहा है कि इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास के अंदर रविवार रात को ड्रोन देखा गया था. भारत ने इस मामले को गंभीरता से लिया और पाकिस्तान सरकार से कड़ी आपत्ति जताई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें