scorecardresearch
 

मुख्तार अंसारी को दिया जाने वाला खाना पहले चखते हैं डिप्टी जेलर, 20 CCTV कैमरों से नजर

उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी की सुरक्षा पर फिर से सवाल उठ रहे हैं. ऐसे में जेल प्रशासन ने सारे सवालों का जवाब दिया. जेल प्रशासन का कहना है कि जिस बैरक में मुख्तार बंद हैं, उसके आसपास 20 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं.

X
मुख्तार अंसारी (फाइल फोटो) मुख्तार अंसारी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मुख्तार अंसारी की सुरक्षा पर जेलर का जवाब
  • कहा- हर वक्त सुरक्षा में तैनात रहते हैं सिपाही

उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी की सुरक्षा पर उनके परिजनों ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं. इसके बाद हरकत में आए जेल प्रशासन ने मुख्तार अंसारी की सुरक्षा का पूरा खाका मीडिया के सामने पेश किया. जेल प्रशासन की मानें तो मुख्तार की सुरक्षा में दर्जनों आरक्षियों के अलावा 20 सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं.

दरअसल, मुख्तार अंसारी के बेटे ने उनकी जान को खतरा बताया था. इन आरोपों को जेलर वीरेंद्र कुमार वर्मा ने पूरी तरह से खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि मंडल कारागार में मुख्तार पूरी तरह से सुरक्षित है, उन्हें किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है. जेलर ने बताया कि जेल परिसर में सीसीटीवी के साथ पीएसी का कड़ा पहरा है.

जेलर वीरेंद्र कुमार वर्मा ने कहा कि सिविल पुलिस की टीम भी मुख्तार अंसारी की सुरक्षा कर रही है, इन सभी के साथ एक डिप्टी जेलर की खासतौर पर ड्यूटी लगाई गई है, मेरे द्वारा सीसीटीवी के साथ निरीक्षण भी किया जाता है, उनके बेटे द्वारा लगाए गए आरोप पूरी तरह से असत्य और निराधार हैं, जेल में मुख्तार को किसी भी प्रकार का कोई खतरा नहीं है.

जेलर वीरेंद्र कुमार वर्मा ने इंडिया टुडे को बताया, 'पीएसी के 30 आरक्षी, कारागार स्तर के 9 आरक्षी, 25 पुलिस के जवान, 15 जवान जेल प्रशासन के अलग से उनकी सुरक्षा में लगाया गया है. जिला कारागार बांदा में एक डिप्टी जेलर को भी सुरक्षा के लिए लगाया गया है. 48 सीसीटीवी कैमरों से पूरे जेल में निगरानी की जा रही है.

मुख्तार अंसारी की सुरक्षा के सवाल पर जेलर वीरेंद्र कुमार वर्मा ने कहा कि 20 सीसीटीवी कैमरे उनकी बैरक के चारों तरफ लगे हैं, यदि कोई जाएगा तो उन 20 कैमरों से गुजर कर जाएगा. खाने के आरोप पर कहा कि एक डिप्टी जेलर रैंक का अधिकारी अपने सामने खाना बनता है, खाना चखकर देखा जाता है फिर मुख्तार को दिया जाता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें