scorecardresearch
 
पुलिस एंड इंटेलिजेंस

नेताओं के साथ फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड

नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड
  • 1/5

हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड गौरव शर्मा अभी भी फरार है. हत्याकांड के 2 दिन भी यूपी पुलिस के हाथ खाली हैं. गौरव इलाके में नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई का राज चलाता है. लड़की के पिता की खेत मे पॉइंट ब्लैंक रेंज से कई गोलियां मारकर हत्या की गई थी.

नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड
  • 2/5

भागते वक्त भी इलाके में दहशत फैलाने के लिए गौरव शर्मा और उसके साथियों ने कई राउंड की थी फायरिंग की थी. गौरव शर्मा का सपा की रैली का वीडि‍यो वायरल हो रहा है. वीडियो 18 जनवरी का श्रावस्ती का बताया जा रहा है.

नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड
  • 3/5

इस बारे में पीड‍ि़ता ने बताया क‍ि 2 दिन हो चुके हैं लेकिन अभी तक पुलिस ने मेरे पिता के हत्यारे गौरव को गिरफ्तार नहीं किया है. हमें डर है कि वो फिर अटैक कर सकता है. उसके ऊपर नेताओं का हाथ है. आखिर पुलिस क्यों नहीं पकड़ रही है? उसका एनकाउंटर होना चाहिए. हमारे घर अभी तो पुलिस तैनात है, जब पुलिस चली जायेगी तो हमें कौन बचाएगा. हम कल से कह रहे हैं वो समाजवादी पार्टी का है अब तो उसका वीडियो भी सामने आ गया है.

लड़की की मां ने बताया क‍ि मैं खेत में थी, मुझ पर भी गोली चलाई. मैं नाली में गिर गई तो बच गई. मैंने हाथ जोड़ा क‍ि मेरे पति को मत मारो लेकिन वो पहले दूर से, फिर पास आकर गोली मारकर गया. पुलिस अभी तक क्यों नहीं पकड़ पाई.

नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड
  • 4/5

बता दें क‍ि यह सनसनीखेज मामला हाथरस जिले के थाना सासनी क्षेत्र का है. गांव नौजरपुर में सोमवार की देर शाम अमरीश अपने खेत में आलू की खुदाई करा रहे थे. तभी चार हमलावरों ने अमरीश को गोलियों से भून डाला. अमरीश अपने खेत में जमीन पर लहूलुहान पड़े थे. आनन-फानन में लोगों ने अमरीश को अस्पताल पहुंचाया. लेकिन अस्पताल ले जाने के दौरान अमरीश की मौत हो गई.  

 

नेताओं के साथ तस्वीरें और फोटो दिखाकर दबंगई करता था हाथरस हत्याकांड का मास्टरमाइंड
  • 5/5

इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक हाथरस विनीत जयसवाल ने बताया था कि ढाई साल पहले जुलाई 2018 में अमरीश द्वारा छेड़छाड़ की एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. जिसमें गौरव शर्मा नाम का व्यक्ति जेल भी गया था. गौरव एक महीने बाद जमानत पर बाहर आ गया था. मृतक के परिवार का कहना है उनकी पुरानी रंजिश चली आ रही थी. 

1 मार्च को गांव के मंदिर में मृतक की बेटी मौजूद थी... तभी गौरव शर्मा, उसकी पत्नी और उसकी मौसी मंदिर में आए और इनका आपस में झगड़ा हुआ. इसके बाद गौरव शर्मा नाम के शख्स ने अपने परिवार के तीन लोगों के साथ अमरीश को खेत में जाकर गोली मार दी. पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है.