scorecardresearch
 

यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला की रेप के बाद हत्या, 2 आरोपी अरेस्ट, SHO सस्पेंड

उत्तर प्रदेश के बदायूं में महिला के साथ हुए गैंगरेप और बाद में हत्या के मामले में बड़ा एक्शन हुआ है. यहां लापरवाही बरतने के आरोप में उघैती के थाना प्रभारी राघवेंद्र को सस्पेंड कर दिया है.

बदायूं गैंगरेप मामले में एक्शन (सांकेतिक तस्वीर) बदायूं गैंगरेप मामले में एक्शन (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बदायूं गैंगरेप-हत्या मामले में एक्शन
  • लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी सस्पेंड
  • अबतक दो आरोपी गिरफ्तार, एक की तलाश

उत्तर प्रदेश के बदायूं में महिला के साथ हुए गैंगरेप और बाद में हत्या के मामले में बड़ा एक्शन हुआ है. यहां लापरवाही बरतने के आरोप में उघैती के थाना प्रभारी राघवेंद्र को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही इस मामले में अब एक और गिरफ्तारी हुई है, यानी अबतक कुल दो आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. पुलिस को अभी भी एक आरोपी की तलाश है.

दरअसल, बीते रविवार को बदायूं में 50 वर्षीय महिला अपने गांव के मंदिर में पूजा करने के लिए गई थी. जिसके बाद महिला का शव मिला संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था. पुलिस ने जब इस मामले की जांच की और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सामने आई तो गैंगरेप की पुष्टि हुई. 

पोस्टमार्ट्म रिपोर्ट के मुताबिक, महिला के गुप्तांग पर चोटें आई हैं और महिला का पैर भी फैक्चर पाया गया है.

पुलिस ने इस मामले में गैंगरेप, हत्या का मामला दर्ज किया है और तीन लोगों को नामजद किया है. पुलिस की ओर से इस मामले में एक्शन के लिए चार टीमें बनाई गई हैं. 

देखें आजतक LIVE TV

गौरतलब है कि रविवार की शाम को जब महिला मंदिर गई, तो देर रात को शव को मंदिर के महंत और अन्य दो लोगों ने घर पर पहुंचाया. तब कहा गया कि मंदिर से आते वक्त महिला कुएं में गिर गई थी, उसे निकाला तो वहां मृत मिली. 

हालांकि, परिजनों ने पुलिस के सामने रेप और हत्या की शिकायत की. साथ ही जो लोग महिला के शव को छोड़ने आए थे, उनपर ही आरोप लगाया. पुलिस ने जब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देखी, तो उसमें रेप की पुष्टि हुई. साथ ही महिला के साथ जबरदस्ती किए जाने के सबूत भी मिले.

इस पूरे मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी सवाल खड़े किए हैं. प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा कि हाथरस में सरकारी अमले ने शुरुआत में फरियादी की नहीं सुनी, सरकार ने अफसरों को बचाया और आवाज को दबाया, अब बदायूं में थानेदार ने फरियादी की नहीं सुनी, घटनास्थल का मुआयना तक नहीं किया. महिला सुरक्षा पर यूपी सरकार की नियत में खोट है.

(रिपोर्ट: अंकुर चतुर्वेदी)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें