scorecardresearch
 

फिरोजाबादः एसजेएस इंटर कालेज के बेसमेंट में चल रही थी अवैध शराब की फैक्ट्री, ऐसे हुआ खुलासा

पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर एसजेएस इंटर कालेज के बेसमेंट पर छापा मारा. जहां अवैध शराब बनाने की एक फैक्ट्री संचालित की जा रही थी. वहां अपमिश्रित और ज़हरीली शराब तैयार कर पंचायत चुनावों में खपाने की तैयारी की जा रही थी.

पुलिस ने अवैध शराब के धंधे में लिप्त तीन लोगों को गिरफ्तार किया है पुलिस ने अवैध शराब के धंधे में लिप्त तीन लोगों को गिरफ्तार किया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिक्षा के मंदिर में नशे का कारोबार
  • तहखाने में बन रही थी अवैध शराब
  • गैंग के तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में शराब माफियाओं की कमर तोड़ने के बाद यूपी पुलिस ने फिरोजाबाद जिले में भी शराब माफियाओं के ख़िलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है. हैरानी की बात ये है कि वहां एक कालेज के तहखाने में अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री चलाई जा रही थी. पुलिस को शक है कि वहां पंचायत चुनावों में खपाने के लिए देसी शराब बनाई जा रही थी. पुलिस ने मौके से सरगना समेत तीन लोगों को पकड़ा है.

पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर एसजेएस इंटर कालेज के बेसमेंट पर छापा मारा. जहां अवैध शराब बनाने की एक फैक्ट्री संचालित की जा रही थी. वहां अपमिश्रित और ज़हरीली शराब तैयार कर पंचायत चुनावों में खपाने की तैयारी की जा रही थी. इस काम में एक अंतरराज्यीय गैंग लगा हुआ था. पुलिस ने इस गैंग का भण्डाफोड़ करते हुए गैंग के सरगना रंजीत यादव समेत 3 बदमाशों को गिरफ़्तार कर लिया.

पुलिस ने मौके से करीब 375 लीटर एक्स्ट्रा न्यूट्रल ऐल्कोहल, 70 बोरी यूरिया, करीब 10 लीटर रंग उत्पन्न करने वाले रसायन, करीब 2000 ढक्कन, करीब 2000 ख़ाली क्वार्टर, नकली क्यूआर कोड स्टीकर्स, नकली रैपर, अवैध शराब की सप्लाई के लिए इस्तेमाल होने वाली एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो कार, 3 मोटर साइकिल, 44 अदद फर्ज़ी मुहरें और अवैध शराब बनाने के तमाम उपकरण बरामद किए हैं.

इस मामले में पुलिस ने संबंधित आईपीसी और आबकारी अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. पकड़े गए बदमाशों से लगातार पूछताछ की जा रही है. शातिर अभियुक्तों से पूछताछ के बाद जो तथ्य उभरकर सामने आए हैं, उनके आधार पर पुलिस ने कार्रवाई के लिए एक विशेष टीम बनाई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें