scorecardresearch
 

आगरा: PAK की जीत का जश्न मनाने वाले 3 कश्मीरी छात्रों को कोर्ट में पेशी के दौरान लोगों ने जड़े थप्पड़

आगरा के आरबीएस कॉलेज के बिचपुरी कैंपस में देश विरोधी नारे लगाने के मामले में तीनों कश्मीरी छात्र गिरफ्तार किए गए थे. तीनों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है. साक्ष्य मिलने के बाद मुकदमे में देशद्रोह की धारा 124 ए बढ़ाई गई है.

आरोपी छात्रों पर हमला करने वाले लोगों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है आरोपी छात्रों पर हमला करने वाले लोगों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टी20 विश्वकप में पाकिस्तान की जीत पर लगाए थे नारे
  • आरबीएस कॉलेज के बिचपुरी कैंपस की है घटना
  • हमला करने वालों ने किया पुलिस जीप का पीछा

टी20 विश्वकप में भारत की हार और पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने और पाकिस्तान के समर्थन नारेबाजी करने वाले तीन कश्मीरी छात्रों को कोर्ट में पेश किया गया. इस दौरान कुछ लोगों ने उन छात्रों पर पुलिस अभिरक्षा में हमला कर दिया और उनको चाटे मारे. इन तीनों कश्मीरियों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है.  

आगरा के आरबीएस कॉलेज के बिचपुरी कैंपस में देश विरोधी नारे लगाने के मामले में तीनों कश्मीरी छात्र गिरफ्तार किए गए थे. तीनों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है. साक्ष्य मिलने के बाद मुकदमे में देशद्रोह की धारा 124 ए बढ़ाई गई है. गुरुवार को तीनों छात्रों को सुनवाई के लिए सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट में पेशी के बाद जैसे ही तीनों छात्रों को लेकर पुलिस बाहर आई. वहां मौजूद कुछ लोग पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे.

तभी भारत माता का जयकारा लगाते हुए भीड़ में शामिल लोगों ने कश्मीरी छात्रों को थप्पड़ मार दिए. ये सब देखकर पुलिसकर्मियों ने मुस्तैदी दिखाई और इनायत अल्ताफ शेख, अरशद युसूफ और शौकत अहमद गनी नामक छात्रों को आनन-फानन में पुलिस जीप में बैठा कर जेल ले गई. हंगामा करने वाले लोगों ने पुलिस जीप के पीछे दौड़ भी लगाई.

इसे भी पढ़ें--- भारत की हार पर पाक प्रेम के कितने केस, यूपी-पंजाब-राजस्थान में क्या हुआ एक्शन? 

इस मामले की जानकारी देते हुए जिला शासकीय अधिवक्ता ने बताया कि जगदीशपुरा पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 124ए, 153ए, 505, 1बी सूचना प्रौद्योगिकी संशोधन अधिनियम 2008 की धारा 66एफ के तहत मुकदमा दर्ज किया है. उनका मानना है कि यह मामला बेहद गंभीर है. तीनों आरोपी छात्रों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×