scorecardresearch
 

दिल्ली: हत्या के बाद रिक्शे पर लादकर लाश को ठिकाने लगाने जा रहा था, ऐसे हुआ गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है, जिसने मामूली विवाद में एक आदमी को मौत के घाट उतार दिया. हत्या के बाद शख्स उसकी लाश को रिक्शे पर लादकर ठिकाने लगाने जा रहा था, तभी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

रिक्शे पर लादकर शव को ठिकाने लगाने जा रहा था आरोपी (सांकेतिक तस्वीर) रिक्शे पर लादकर शव को ठिकाने लगाने जा रहा था आरोपी (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शराब पीने के बाद शख्स ने किया था मर्डर
  • मामूली बात को लेकर हुई थी कहासुनी
  • लाश को ठिकाने लगाने जा रहा था शख्स

दिल्ली पुलिस ने हत्या कर लाश को ठिकाने लगाने जा रहे एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. शख्स लाश को रिक्शे पर लादकर कहीं छिपाने जा रहा था, तभी पेट्रोलिंग पर निकले एक पुलिसकर्मी की नजर रिक्शे पर पड़ी. पुलिस को माजरा थोड़ा संदिग्ध लगा तो रिक्शे वाले को रोक लिया. जब जांच की तो रिक्शे पर एक डेड बॉडी नजर आई. 

पुलिसकर्मी ने तत्काल पीसीआर को कॉल किया और शख्स को हिरासत में ले लिया. पुलिस का कहना है कि वंसत कुंज के एक ब्लॉक के गली नंबर 5 में करीब 4 बजे एक शख्स रिक्शे पर लादकर शव को ले जा रहा था. कॉल के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची. पुलिस ने शव की जांच की तो बॉडी के बाएं हाथ पर हिंदी में महाकाल लिखा टैटू नजर आया. 

शख्स के पास से एयरपोर्ट पार्किंग की एक स्लिप भी मिली, जो 22 जुलाई की है. पुलिस अब तक पीड़ित की पहचान नहीं कर सकी है. पुलिस का कहना है कि मृतक के बारे में पड़ताल की जा रही है. पुलिस ने आरोपी से सख्ती से पूछताछ शुरू की तो उसने पूरे हत्याकांड का खुलासा किया.


'मेरी नहीं होगी तो किसी की नहीं होने दूंगा,' ये सोचकर किया प्रेमिका का कत्ल, खुद भी खाया जहर 

गला दबाकर आरोपी ने की हत्या!

पुलिस ने रिक्शा चला रहे आरोपी समरेश से सवाल किया तो उसने बताया कि वह महिपालपुर इलाके में एक बिल्डिंग में गार्ड का काम करता है. वहीं बेसमेंट पार्किंग में एक शख्स बीती रात अचानक से पहुंच गया. शख्स नशे में था और उससे झगड़ा करने लगा. गार्ड गुस्सा हो गया और पीड़ित के चेहरे पर एक घूसा जड़ दिया, जिसके बाद वह गिर पड़ा. जैसे ही शख्स उठा, आरोपी ने गला दबाकर हत्या दी.
 


बेसमेंट में छिपाई थी लाश!

रात के वक्त उसने लाश को बेसमेंट में छिपा दिया था, वहीं करीब सुबह 4 बजे रिक्शे पर डालकर वह लाश को ठिकाने लगाने जा रहा था, तभी हेड कांस्टेबल विनोद की नजर उस पर पड़ गई. पुलिस आरोपी के बयानों की जांच कर रही है. पुलिस का कहना है कि जो शुरुआती आइडेंटिफिकेशन मिली है, उसी के आधार पर जांच की जाएगी.
 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें