scorecardresearch
 

UP: ऑनर किलिंग की भेंट चढ़ा एक और प्रेमी युगल, घर से भागे प्रेमियों की गला दबाकर हत्या

फिरोजाबाद से एक ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है. जहां पर एक शख्स ने अपनी बेटी और उसके प्रेमी की गला दबाकर हत्या कर दी और दोनों के शवों को नदी में फेंक दिया. पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है और अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है.

X
(प्रतीकात्मक फोटो) (प्रतीकात्मक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • घर से भागे प्रेमियों की गला दबाकर हत्या
  • ऑनर किलिंग में लड़की का पिता गिरफ्तार
  • पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद के थाना सिरसागंज इलाके से ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है. प्रेमी युगल के घर से भाग जाने के बाद लड़की के पिता ने प्रेमी युगल को दिल्ली से पकड़ा और दोनों की गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद शवों को बटेश्वर के पास यमुना नदी में फेंक दिया. लड़के के परिजनों ने लड़की के पिता देवीराम और उसके भाई शिवराज के खिलाफ थाने में मामला दर्ज कराया है. दोनों शवों को नदी में तलाशने का काम किया जा रहा है.  

ऑनर किलिंग में प्रेमी युगल की हत्या 

थाना सिरसागंज इलाके के गांव जहांगीरपुर में 20 साल के उत्तम यादव और 19 साल की नेहा का घर पड़ोस में था. प्रेम संबंध के चलते दोनों घर से भाग गए थे. प्रेमी युगल को घर वालों ने ढूंढा और घर ले आए इसके बाद गांव वालों ने दोनों परिवार के बीच समझौता करा दिया. इसके बाद 31 जुलाई को प्रेमी- प्रेमिका घर से फिर गायब हो गए. लड़के के परिजनों ने 7 अगस्त को पुलिस में गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कराया गया. लड़के के पिता ने शक जाहिर किया कि उसके लड़के और लड़की की हत्या कर दी गई है. 

लड़के के परिजनों ने गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कराया

लड़के के पिता सुधर सिंह ने सिरसागंज में 12 अगस्त को गुमशुदगी का मुकदमा अपहरण में बदलने को तहरीर दी और इस मुकदमे में लड़की पिता देवी राम उसका भाई शिवराज गांव के ही श्याम बिहारी, रोहित, राहुल, अमन को नामजद किया गया. पुलिस में मुकदमा दर्ज होते ही देवीराम की तलाश शुरू कर दी गई.  क्योंकि देवीराम घटना के अगले दिन से ही घर से गायब था और उसने अपना मोबाइल भी बंद कर दिया था.

घटना के बाद से ही लड़की का पिता गायब था  

जैसे ही आ.रोपी देवीराम ने अपना मोबाइल ऑन किया पुलिस ने उसे पकड़ लिया. थाने लाकर देवीराम से सख्ती से पूछताछ की गई और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. देवीराम ने पुलिस को बताया कि उत्तम और नेहा को उसने दिल्ली के एक घर से 1 अगस्त को पकड़ा था और 2 अगस्त को तड़के दोनों की गला दबाकर हत्या कर दी थी.

लड़के और लड़की की गला दबा कर हत्या की गई  

आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने हत्या इसलिए की क्योंकि उसकी दो बड़ी लड़कियां अभी कुंवारी है और समाज में लोकलाज के डर की वजह से उसने अपनी बेटी और उसके प्रेमी की गला दबाकर हत्या की. हत्या के बाद अपने साथियों की मदद से बटेश्वर के पास यमुना में दोनों के शवों को फेंक दिया.  एसएसपी ने मंगलवार को आगरा से पीएससी व गोताखोरों की टीम बुलाई गई है जो यमुना नदी कि में मोटरबोट के जरिए शवों की तलाश में जुटी हुई है.  

नदी में शवों को तलाशा जा रहा है 

इस मामले पर ज्यादा जानकारी देते हुए एसएसपी फिरोजाबाद अशोक कुमार शुक्ला ने बताया कि पड़ोस में रहने वाले लड़के और लड़की का प्रेम प्रसंग चल रहा था. मार्च में दोनों घर से भाग गए थे फिर इन्हें ढूंढकर घर लाया गया. इसके बाद 31 जुलाई को दोनों घर से फिर भाग गए. लड़के के परिजनों ने गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कराया गया था. पुलिस को उसी समय शक हो गया था कि लड़की के परिजनों की तरफ से मामला दर्ज क्यों नहीं कराया गया. 

आरोपी को जेल भेज दिया गया 

7 अगस्त को तफ्तीश में सामने आया कि दोनों का मोबाइल बंद है. लोकेशन ट्रेस नहीं हो पा रही थी. लड़के के परिजनों ने शक के आधार पर अपहरण का मुकदमा लिखवा दिया. जिसमें देवी राम सहित कई लोगों को नामजद किया गया था. अब जैसे ही देवीराम पकड़ में आया तो उसने अपना गुनाह कबूल लिया है. बाकी के लोगों के गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.  यह मामला प्रेम प्रसंग का है समाज में अपनी प्रतिष्ठा बचाने के लिए देवीराम ने अपनी लड़की और उसके प्रेमी की भी हत्या कर दी. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें