scorecardresearch
 

गाजियाबाद: घूस लेकर आबकारी विभाग का कांस्टेबल करा रहा था शराब की तस्करी, गिरफ्तार 

गाजियाबाद पुलिस ने आबकारी विभाग के एक कांस्टेबल को गिरफ्तार किया है. बताया गया है कि आरोपी कांस्टेबल पैसे लेकर अवैध शराब की तस्करी करा रहा था. वहीं दूसरे हेड कांस्टेबल की तलाश जारी है. 

(प्रतीकात्मक फोटो) (प्रतीकात्मक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छोड़ने के लिए की थी चार लाख की डिमांड
  • शराब तस्कर की जेब से निकाले गए पैसे बरामद
  • आरोपी हेड कांस्टेबल की तलाश कर रही पुलिस 

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में आबकारी विभाग के पुलिसकर्मियों द्वारा अवैध शराब की तस्करी कराई जा रही थी. इसकी जानकारी उस समय हुई, जब पुलिस की गिरफ्त में शराब तस्कर आया. पूछताछ के दौरान उसने आबकारी विभाग के हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल के बारे में जानकारी दी, जिसके बाद पुलिस ने कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया, जबकि हेड कांस्टेबल की तलाश जारी है. वहीं आरोपी कांस्टेबल के पास से घूस के तौर पर लिए गए रुपये भी बरामद किए गए हैं. 

गाजियाबाद के एसपी देहात डॉ. ईरज राजा के मुताबिक 6 अप्रैल को थाना मुरादनगर की पुलिस और आबकारी विभाग की संयुक्त कार्रवाई में कुलबीर नाम के शराब तस्कर को गिरफ्तार किया गया. कुलदीप के कब्जे से बड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद की गई थी. गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने कुलबीर से पूछताछ की, जिसमें उसने चौंकाने वाला खुलासा किया. कुलबीर ने पुलिस को बताया कि गिरफ्तारी से पहले उसे दुहाई टोल पर 2 लोगों ने रोका था. वो 2 लोग आबकारी विभाग के थे. 

आरोपी ने बताया कि दोनों आबकारी विभाग के कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल ने कुलबीर के फोन से उसके मालिक से 4 लाख की डिमांड की. 4 लाख नहीं दे पाने पर 1 लाख रुपये में कुलबीर को छोड़ने का सौदा तय हुआ. उसके बाद भी बात नहीं बनी तो कांस्टेबल सन्दीप कुमार और हेड कांस्टेबल मदनपाल ने कुलबीर को एक कमरे में ले जाकर उसकी जेब से 500-500 रुपये के 8 नोट जबरन निकाल लिए. इसके बाद उसे छोड़ दिया. 

वहीं कुलबीर के बयान के बाद पुलिस ने आबकारी विभाग के कांस्टेबल संदीप को हिरासत में ले लिया. उससे कड़ाई से पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं हेड कांस्टेबल मदनपाल फिलहाल फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है. पुलिस ने करप्शन एक्ट के तहत केस दर्ज किया है. घूस के 4 हजार रुपये आरोपी के पास से बरामद हुए हैं

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें